koo-logo
koo-logo
back
Ajay khanna
shareblock

Ajay khanna

@Ajaykhanna1

Accountant

Koo Your Opinion!

calender Joined on Aug 2021

KooKooKoo(52)
LikedLikedLiked(1)
Re-Koo & CommentRe-Koo & CommentRe-Koo & Comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#TruthOfKarvaChauth मान्यता : पत्नी अपने पति की लंबी आयु के लिए करवा चौथ का व्रत रखती है। सच्चाई : श्रीमद्भागवत गीता अध्याय 6 श्लोक 16 के अनुसार व्रत करना शास्त्र विरुद्ध है और अध्याय 16 श्लोक 23 के अनुसार शास्त्र विरुद्ध साधना व्यर्थ प्रयत्न है इससे कोई लाभ नहीं होता।
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#TruthOfKarvaChauth मान्यता : करवा चौथ व्रत की मान्यता है कि इससे पति की आयु बढ़ जाती है। सच्चाई : इस मान्यता के अनुसार फिर तो हिन्दू बहन बेटियां विधवा नहीं होनी चाहिए। करवा चौथ व्रत शास्त्र विरुद्ध है जिससे किसी की आयु नहीं बढ़ती।
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#ImmortalSatlok_MortalEarth पृथ्वी लोक में चींटी से लेकर हाथी तक, रंक से लेकर राजा तक कोई सुखी नहीं है। सतलोक एकमात्र ऐसा स्थान है जहां राग द्वेष नहीं हैं। जहां किसी वस्तु का अभाव नहीं। जहां सभी प्यार से रहते हैं। जहां बारह मास बंसत रहता है। Visit Us- Satlok Ashram YouTube
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

*#ImmortalSatlok_MortalEarth* काल लोक/पृथ्वी लोक एक कैद खाना है। जहाँ पर 21 ब्रह्मांड का स्वामी ज्योति निरंजन काल/ब्रह्म आत्माओं को दुःखी करने के लिए84 लाख योनियों में उत्पन्न करता है। जबकि सतलोक परमेश्वर कविर्देव (कबीर साहेब) का लोक है जो अजर अमर अविनाशी लोक है। Satlok ashram
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#ImmortalSatlok_MortalEarth पृथ्वी लोक पर साधना करके जीव कुछ समय स्वर्ग रूपी होटल में चला जाता है। फिर अपनी पुण्य कमाई खर्च करके वापिस नरक तथा चौरासी लाख प्राणियों के शरीर में जाता है। सतलोक में भक्ति नष्ट नहीं होती। सतलोक शाश्वत स्थान है।
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#ImmortalSatlok_MortalEarth सतलोक में जाने के बाद जीवात्मा का जन्म-मरण हमेशा के लिए समाप्त हो जाता है। लेकिन सतभक्ति के अभाव में पृथ्वी के प्राणी 84 लाख योनियों के चक्कर में भटकते रहते हैं। Sant Rampal Ji Maharaj
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#MsgOfAadiRamOnDussehra काम, क्रोध, लोभ, मोह, अहंकार है सबसे बड़े भयानक रावण हैं। इनको केवल परमेश्वर कबीर देव जी की सतभक्ति से ही काबू किया जा सकता है। Visit:-Satlok Ashram Youtube Channel. Sant Rampal Ji Maharaj
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#MsgOfAadiRamOnDussehra Sant Rampal Ji Maharajमर्द गर्द में मिल गए, रावण से रणधीर। कंश, केसी, चाणूर से, हिरणाकुश बलबीर।। कंस, केसी, चाणौर, हिरणाकुश और रावण जैसे योद्धा भी सतभक्ति के बिना मृत्यु उपरांत मिट्टी में मिल गए। कबीर परमात्मा की सतभक्ति से ही मोक्ष मिल सकता
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#MsgOfAadiRamOnDussehra आदि राम जी के पूजा के नाम बिना पांचों विकार रूपी रावण (काम क्रोध लोभ मोह अहंकार) मनुष्य का जीवन लूट लेते और उसे शक्ति से वंचित करके नरक में धकेल देते हैं आदि राम को पूर्ण रूप से जानने के लिए देखें साधना चैनल शाम 07:30 बजे Sant Rampal Ji Maharaj
comment
img
@Ajaykhanna1

Accountant

#HowToFindMentalPeace किसी भी तरह की महामारी व मानसिक तनाव का पुख्ता इलाज कबीर परमेश्वर की सतभक्ति में है जो की तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज बताते है। पूर्ण संत से नाम उपदेश लेकर शास्त्रानुसार सतभक्ति करने से हर प्रकार के दुख दूर हो जाते है। Sant Rampal Ji Maharaj
comment
create koo