koo-logo
koo-logo
back
Swapnil Srivastava
shareblock

Swapnil Srivastava

@swapnil697

Housewife

calender Joined on Jan 2021

KooKooKoo(1832)
LikedLikedLiked(3411)
Re-Koo & CommentRe-Koo & CommentRe-Koo & Comment(341)
img
@swapnil697

Housewife

भारत हिन्दू राष्ट्र बने, माथे की बिंदियाँ के जैसे धरती का शृंगार बने, दिल मे एक अभिलाषा है अपनी एक पहचान बने।जय श्री कृष्ण
commentcomment
0
img
@swapnil697

Housewife

शुभ रात्रि शुभ मंगल कामनाओं के साथ
commentcomment
2
img
@swapnil697

Housewife

बड़ी मुस्किल से इतने आगे आये हैं पीछे अब मत खीचिए, देश के गद्दारों का साथ कभी मत दीजिए, वक्त पुराना हमने देखा आपने देखा सबने देखा ,किसको आना चाहिए फैसला सोच समझ कर कीजिए, स्वाभिमान से जीना है जय श्री राम कहना है
commentcomment
6
img
@swapnil697

Housewife

जीवन को फिर से मिला एक सबेरा, किरणें धरा पर सूर्यदेव ने बिखेरा, उम्मीदों की कलियाँ फिर से खिलेगी ,कारवां भी बढेगा मंजिल भी मिलेगी, डरता नहीं हिन्द का वीर कोई हम सबसे आगे धरा पर ना कोई।जय हिन्द जय भारत सुप्रभात प्रणाम सभी को
commentcomment
1
img
@swapnil697

Housewife

देश प्रेम जब जगता है दिल में, मोदी योगी दिल कहता है ,मै तो एक साधारण गृहिणी कोई और चेहरा नजर नहीं आता है, पहले देश बचाना है फिर पीछे सारा ज़माना है, जय हिन्द जय भारत
commentcomment
1
img
@swapnil697

Housewife

शुभ रात्रि मित्रों राधे राधे
commentcomment
6
img
@swapnil697

Housewife

संकठ चौथ की आप सभी बहनों को बहुत बहुत शुभकामनाएं, आज मैने भी व्रत रखा है सभी का परिवार स्वस्थ और सुरक्षित रहे श्री गणेशजी महाराज से बस इतनी ही विनती है।
commentcomment
1
img
@swapnil697

Housewife

चल पड़े एक मौन पथ पर कर लिया संकल्प है, राहे जितनी हो कठिन पर चलना ही विकल्प है मंजिलें मिल जाती हैं जब मन मे एक विश्वास हो, राम की महिमा निराली राम ही बस आस हो। सुप्रभात मित्रों राम राम
commentcomment
2
img
@swapnil697

Housewife

हजारों फूल गुलशन में, महक सबकी जुदा जुदा, कहीं फैली चमेली है कहीं फैला गुलाब सा, कभी कम हो नहीं सकती महक इनकी जहाँन में, धरा पर घूम कर देखो ये नजारा हिन्दुस्तान मे।
commentcomment
1
img
@swapnil697

Housewife

हजारों ख्वाहिशों के बीच जिन्दगी मुसकुराती है, कुछ खोया है तो कुछ पाया है बेबसी क्यूँ दिखलाती है, नहीं कुछ साथ जायेगा, नहीं कुछ ले कर आये थे, जले जो प्रेम के दीपक उजाला ही फैलाती है।।जय श्री कृष्ण राधे राधे
commentcomment
0
create koo