koo-logo
Backback
Sohang Kumar 6386844201
backblock

Sohang Kumar 6386844201

@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

अपनी राय कू करें

calender Joined on Feb 2021

KooKooKoo(38)
LikedLikedLiked(876)
Re-Koo & CommentRe-Koo & CommentRe-Koo & Comment(18)
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

आज हम भारत माता के धरती पर जनम लिए हैं, हमको पता हैं की, जनसंख्या ज्यादा बढ़ने के वजह से हमारा भारत माता मजबूर होतीं जा रही हैं👏 आओ हम सब मिलकर अपने भारत माता को आजाद करें भाई साहब, एक ही बच्चा को जनम दो भाई साहब, लड़का हो या लड़की सिर्फ यही एक मात्र रास्ता हैं👏 मालिक हमारे भारत माता को आजाद करने का दूसरा कोई नहीं, हमको डर लगता हैं दोस्त गुलामी से हमारा देश फिर से ग़ुलाम न हो जाय, जय हिंद,
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

नसबंधी कराना बहुत जरूरी हो गया है दोस्त हमारा, बिल्थरा रोड रूम नम्बर 24,1,2,3,4,27,तथा 29, में पता किया नसबंधि के लिए कोई नहीं किया,, फतहपुर पता किया, फिर मऊ गया रूम नम्बर,1, 2,3,4,5,6,7,पता चला कि आजम गढ़ जिला अस्पताल में तुरंत हो जायेगा मैं तुरंत गया,, पर्ची कटवाया १०क़ा रूम,1, 2,3,4,5,7,12,13,15,19,डीएम का आदेश लेकर आओ, अगर आप के पास कोई रास्ता हैं👏 बताइये मालिक, मैं कराना चाहता हूँ दोस्त,
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

वैज्ञानिकों से बिनती,, दो से पूरी दुनिया में आतंक मचा हुआ हैं,, चंद्रमा पर पानी ढूढ़ने से क्या फायदा,, चंद्रमा की धरती भी एक दिन कम पड़ जायेगा,, ढूढ़ना हैं तो मज़बूरी का अंत ढूँढो मालिक,, डॉक्टर से बिनती,, टीवी का दवा, पोलियो का दवा, कोरोना की दवा, हर रोग की दवा निकाले हैं आप ने बहुत अच्छा,, लेकिन गर्भ ब्रेक की ओरिजनल दवा निकालिए मालिक, सरकार, एक ही बच्चा सबसे अच्छा, नियम लागू कीजिए मोदी जी
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

हिंदू मुस्लिम सिक्ख ईसाई सबकों काल कसाई बिरियानी बना के खाई,, गीता कुरानशरीफ़ वेद वेदांग सब छोड़ दो भाई,, बेटा बेटी, छुट जाई ,, चारों धरम छूट जाई ,, सगे सम्बन्धि सब छुट जाई,, संघ में शरीर का एक बूँद पानी ना जाई ,,, अल्ला ईश्वर मंदिर मस्जिद में नाहीं हैं भाई,, परमात्मा,आत्मा के अन्दर हैं भाई, और आत्मा जीव जानवर वनस्पति तथा इंशान के भीतर् हैं भाई साहब, इंशान का ओरिजनल धर्म इंशानियत हैं भाई,,,
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

दुनिया से लड़कर जीव जान लगाकर अपने भारत माता को ग़ुलामी के चंगूल से आजाद कर दिया,, बहुत सुंदर्👌,, लेकिन हम अपने आप को आजाद नहीं कर पायें,, मोह माया के जाल से,, ३३करोड देवी देवता,, हिंदू मुस्लिम सिक्ख ईसाई,,, भर मल्लाह गोड़ चमार,, या फिर ज्यादा बच्चा पैदा करने की बीमारी,, यह सब क्या हैं,, अपने आप में कटो मरो,, कहाँ आजादी हैं दोस्त सही रास्ता पर चलो भाई साहब,, आज भी सुधार हो सकता हैं👏
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

ऊपर से लोग इंशान दिखते हैं,, लेकिन अंदर से राक्छस होते जा रहे हैं,, क्यों,, क्योंकि ज्यादा बच्चा पैदा कर दिये हैं,, उन बच्चों को जगह ज़मीन देना उनको फ़र्ज हैं,, चाहें किसी का गला ही क्यों न काटना पड़ जाय,, किसी की हत्या करने पर मज़बूर हैं क्यों,, क्योंकि ज़्यादा बच्चों को जनम दे दिया हैं,, अपने जाने में वह ग़लत नहीं कर रहे हैं,, यहीं मजबूरी,, बेईमानी लूट पाट चोरी हत्या कराती हैं दोस्त,,
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

आदम खोरों की दुनिया आने वाली हैं दोस्त अपने आप को संभालो अपने और अपने परिवार के बारे में सोचिये मालिक👏,,इस मतलबी दुनिया में कोई अपना नहीं हैं दोस्त बिल्कुल धोखेबाज ये दुनिया हैं कुछ ऐसे भी परिवार हैं जो पूरी तरह मज़बूरी के जाल में फँस गये हैं,, उन लोगों से मेरा बिनती हैं कि कम बच्चों को जन्म दीजिए मालिक👏,,, सबसे बड़ी मजबूरी अपना बाल बच्चा ही होता हैं दूसरा कोई नहीं,, ज्यादा बाल बच्चा एक जाल,
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

माफ किजियेगा मालिक👏,,,हमकों ऐसा क्यों लगता हैं कि आज के समय काल के हिसाब से १०यर्स के अंदर ही अपना भारत फिर से ग़ुलाम होने का डर हैं,आप को लगे या न लगे लेकिन हमको जरूर महसूस होता हैं दोस्त भाई साहब,,क्योंकि अपने भारत का कोई सही शुभ चिंतक हमारे नजर में आज तक कोई नहीं हैं,,जो कि हमारे भारत माता को स्वस्थ्य बनाने में सहायक हों,जटिल समस्या (बेरोज़गारी तथा जनसंख्या के कारण) एक ही बच्चा सबसे अच्छा,,,
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

आप का ओरिजनल दुश्मन आप के ही तन से जन्म लेता दूसरा कोई नहीं, दुनिया वाले सब आप के गुरू का रोल निभायेगे दोस्त, सच्ची राह दिखाने वाला कोई नहीं मिलेगा दोस्त सब मिलेंगे की एक और लड़का चाहिए, लड़का, नरक के द्वार लेकर जाता हैं तथा लड़की आजादी देकर जाती हैं दोस्त, दो, से तो दुनिया बसी हुई हैं दोस्त,आप का दुनिया कहा बसेगी दोस्त,उतना जगह जमीन भी तो होना चाहिए दोस्त, एक ही बच्चा सबसे अच्छा मान लो दोस्त
commentcomment
@sohang_kumar_6386844201

मजदूर वर्ग

होसियारी का ये मतलब तो नहीं की किसी से आप धोखा धणी करके होसियार बनो, होसियारी वो होता हैं की किसी प्राणी को सच्ची राह दिखा दो दोस्त भाई साहब, कानून सिर्फ पुलिस के पास नहीं होतीं हैं दोस्त कानून तो हर एक इंशान के आत्मा कि आवाज़ हैं मालिक👏 सोच समझ कर देखिये महाराज हमारे पुरबुज जो करते आ रहे हैं वही हम रिवाज़ बना लिये हैं दोस्त होशियारी अपने आप से करो दोस्त बिल्कुल बिँदास रहोंगे दोस्त एक ही बच्चा,
commentcomment
create koo