koo-logo
koo-logo
back
Shikha Bhardwaj
shareblock

Shikha Bhardwaj

@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

aparichita04.blogspot.com

calender Joined on Dec 2020

KooKooKoo(843)
LikedLikedLiked(99189)
Re-Koo & CommentRe-Koo & CommentRe-Koo & Comment(23334)
pin icon
Pinned Koo
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

#हम_राम को मानते हैं, गांधी को नही। हम सनातनी है:🚩 रामायण, महाभारत, भगवदगीता आदि...हमारे ग्रंथ है। कहाँ लिखा है? जब बच्चों और महिलाओं पर अत्याचार हो,तुम्हारे स्वाभिमान पर प्रश्न हो: तुम ध्यान, कीर्तन, मंदिर में भजन करो? वह समय युद्ध होता है!!! राम ने नहीं कहा: मैं निरपेक्ष हूँ! उन्होंने भी पक्ष लिया, और वे बुराई के खिलाफ लड़े! हमें सफल होना हैं, तो हमें अपने ग्रंथों का अध्ययन करना चाहिए 🌞💐🌺🙏
commentcomment
66
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

शुभ संध्या 💐🙏🙏 जयतु सनातन 🚩🙏🙏
play
commentcomment
7
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

#कुशा: अग्र भाग तीखा: कुशाग्र: तीक्ष्ण बुद्धि पूजा-अर्चना आदि धार्मिक कार्यों में कुश का प्रयोग प्राचीन काल से ही किया जाता है। ऊर्जा की कुचालक: इसलिए इसके आसन पर बैठकर पूजा-वंदना, उपासना की जाती है। वेदों ने कुश को तत्काल फल देने वाली औषधि, आयु वृद्धि, दूषित वातावरण को पवित्र, संक्रमण फैलने से रोकने वाला बताया है। मांगलिक कार्य एवं सुख-समृद्धिकारी है, क्योंकि इसका स्पर्श अमृत से हुआ है।🙏
commentcomment
12
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

कड़ाके की ठंड और पूरा शरीर वर्फ से आच्छादित.. ऐसी तप और साधना सिर्फ सनातन में हीं संभव है... ऐसे एक नहीं हजारों उदाहरण हैं जब... अपनी इंद्रियों को जीत असंभव को भी संभव बनाया... जय हो सत्य सनातन की 🙏
commentcomment
23
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

शुभ प्रभात कू परिवार 🌞💐🌺🙏🙏 ये जो चीता है, ये माया की तरह है, जो हमारे ऊपर झप्पटा मारने को तैयार है,, लेकिन अगर मनुष्य हमेशा परमात्म अनुभूति में रहे,, तो चीता (माया) उसका कुछ नही बिगाड़ सकती।
commentcomment
11
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

2- सिर्फ वेद ही नहीं बल्कि मेरूतंत्र (शैव ग्रन्थ) में हिन्दू शब्द का उल्लेख इस प्रकार किया गया है। हीनं च दूष्यतेव् हिन्दुरित्युच्च ते प्रिये। अर्थात:- जो अज्ञानता और हीनता का त्याग करे उसे हिन्दू कहते हैं। 3- और इससे मिलता जुलता लगभग यही यही श्लोक कल्पद्रुम में भी दोहराया गया है। ”हीनं दुष्यति इति हिन्दू” अर्थात:- जो अज्ञानता और हीनता का त्याग करे उसे हिन्दू कहते है।
commentcomment
34
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

#हिन्दू शब्द की उत्पत्ति : कुछ बुद्धिमान लोगो का कहना है : हिन्दू शब्द फारसियों की देन है। क्यूंकि इसका उल्लेख वेद पुराणों में नहीं है। 1-ऋग्वेद के ब्रहस्पति अग्यम में हिन्दू शब्द का उल्लेख इस प्रकार है: हिमलयं समारभ्य यावत इन्दुसरोवरं। तं देवनिर्मितं देशं हिन्दुस्थानं प्रचक्षते।। अर्थात:- हिमालय से इंदु सरोवर तक देव निर्मित देश को हिंदुस्तान कहते हैं 🙏 क्रमशः
commentcomment
32
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

अब जीने में जो जिंदगी बची है...... उनकी यादें हैं... जो रख ली है मैंने... क्या जानें ईश्क़ था कि क्या था... पर अब जब वो नही है... बस जिंदगी की जर्द रख ली है मैंने.... वो था जो मेरा अपनो में कोई ख़ास था.... अब जो है बस साँसे उधार की रख ली है मैंने। अब जो भी है बस निभानी है.... ख़ुशी तो बस ख़यालो में कैद रख ली है मैंने। कभी प्यार,और ईश्क़ जो था दिल से था अब दिलों की महफ़िल में भी... ......... ......
commentcomment
8
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

शुभ प्रभात कू परिवार 💐🙏🙏 ये खिचड़ी नहीं है। ये आजकल विवाह का ट्रेंड ”प्री-हल्दी फोटोशूट” है। चौपट होते संस्कारों की चौपट होती दुनिया के लिए कहीं न कहीं इनके माता-पिता भी दोषी हैं, जो बचपन में ये नहीं सिखा पाए कि विवाह एक धार्मिक संस्कार है, संजय लीला भंसाली की दो कौड़ी फिल्म नहीं।
commentcomment
15
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

यूँ क्यूँ तुम ओष की तरह हुए परे हो.... हर पत्ते, हर पंखुरी पर बिखड़े परे हो क्यों नही सिमट एक हो जाते हो, क्यूँ नही तुम बून्द-बून्द मिल दरिया बन जाते हो कुछ तुझमे कुछ तेरी बातों में भी गहराई हो, मिलूँ मैं तुझमे ही कहीं, कुछ जगह मेरी भी हो। यूँ क्यूँ तुम ओष की तरह हुए परे हो.... हर पत्ते, हर पंखुरी पर बिखड़े परे हो जरा सी तपिश जमाने की तुमको... ......... ........... शुभ रात्रि💐🙏🙏
commentcomment
8
img
@simple81

Homemaker,blogger, Writer and Poet

चिता अपनी गति का उपयोग शिकार करने के लिए करता है। न कि कुत्तों को यह सावित करने के लिए की वह तेज और मजबूत है। देश के लिए जो सही है, मोदी और योगी का निर्णय वही है। योगी और मोदी देश की पीलर है। कुत्तों के भौंकने के बहकाबे में न आए। मोदी के साथ खड़ा होना मतलब देश के साथ खरा होना । 🙏🚩🚩जय जय सियाराम🚩🚩🙏
commentcomment
20
create koo