koo-logo
backRamuback

Ramu

@ramu8O81P

Carpenter

अपनी राय कू करें

calenderhttps://www.kooapp.com/profile/ramu8O81P

calender Mar 2021 में कू पर आए।

कू (187)
पसंद किया
रिकू और कमेंट
मेंशन्स
img
Carpenter
एक तरफ मेन्टल हॉस्पिटल ,एक तरफ जेल ह इनसे वास्ता,सब मन ही का खेल ह ,,,,एक होस में रहते बंद ,,एक बेहोसी में बंद ,,बेहोसी ने खेल को इतना मन से सही माना संतुलन बिगड़ा ,तो जेल ,,,होस वाला मन के परबस हुआ तो जेल (आदमी की बनाई जेलों के सरिये इतने कठोर मजबूत नहीं ,,जितना मन की जेल के सरिये ) (मन के हारे हार ह )🙏🙏💐
img
img
comment
img
Carpenter
दूसरे को ज्ञान ,देना और करेले का जूस पिलादेना आसान होता ह,, पर ,,जब खुद ,😂पिए, और जिये ,,🤣😂बड़ा मुश्किल ,,अपनी बात कोई नहीं ईमानदारी से कहता ,जब बीवी से झगड़ा हो जाये तो 🤣😂सारा ज्ञान फुर्र फुर्र 🤣😂 (चतुराई चूले पड़े कथनी जा अकुलाय ,, भाव भगति जाने बिना तेरो ज्ञान पनो चलो जाय )🙏🙏😊🌴
img
img
comment
4
img
Carpenter
सुनो ,😂जिस वक्त आपकी बीवी का मुड ऑफ़ हो 😂🤣तो उस टाइम आप गुलाब 🌹🤣पेश करेंगे तो ,,आपके साथ उसका भी कचुम्बर निकल सकता ह 🤣😂🌹 Note ,-( सादी ,सुदा खबर 🤣😂दुखी पतियों के लिए जारी 🤣🌴)🙏
img
img
comment
3
img
Carpenter
मूर्खो की अन्याय से क्रोध तो लाजमी ह ,पर इन तरंगो को आप.अज्ञानता पूर्ण न निकाले क्योकि आपका मकान लकड़ी का ह इसमें अग्नि समझता से रखनी पड़ेगी 😊😊 न तो कभी कभी खुद के नाख़ून बढे हुवे खुद को नुकशान करते ह (तजो रे मन हरी विमुखन को संग ,जा के संग से कुमति उपजे परत भजन में भंग )🙏🙏💐
img
img
comment
3
img
Carpenter
चल तो हम भी रहे हं ,,और हमें लेकर पृथ्वी भी चल रही ह ,हमने अपनी स्पीड बढ़ा ली ह ,, पृथ्वी लाखों वर्षो से उसी स्पीड में ह 😊 हम इसपे दौड़े बहुत,पर पहुंचे कही नहीं (दौड़ थके मन थिर भया ,वस्तु ठोड की ठोड )🙏🙏💐
img
img
comment
3
img
Carpenter
साधारण कपड़ों में अकबर 🤣बीरबल बाहर निकले नगर में लोग कितना चाहते ह 😂किसान खेत में खड़ा पूछने पर देरसे बताया ,बड़ा खरबूज गाड़ रहा😂ये किसके लिए ,,(ये राजा को खुश करने के लिए )😂राजा खाके खुश न हुवा तो (राजा की माँ की ऐसी की तैसी )🤣५दिन बाद किसान दरबार खरबूजा लिए ,,अकबर जान गया 🤣बोला ,म खाके खुश न हुवा तो 😂किसान-(तो वही खेत वाली बात )🤣😂🤣 (जाकी रही भावना जैसी )🙏🙏💐
img
img
comment
1
img
Carpenter
सबसे बड़ा( हरिजन )इस्वर ह जो हमारी चमड़े का शरीर बनावे ,पर जनक जी के दरबार अष्टावक्र जी को ,ज्ञानार्थ को बुलाया उनका टेड़ा शरीर देख ,सभी बैठे हंस पड़े साधु ने कहा यहाँ तो सारे हरिजन ह ,,राजा सहित सारे क्रोधित ,,साधु बोले महाराज जो चमड़े की परख जाने सो हरिजन ,,ये खाली मेरा शरीर देखते ह , ज्ञान नहीं 😔 (जाती भेद सिर्फ हमारे अहंकार से बनी ,,न तो इस्वर एक ही जाती बनावे मनुष्य )🙏🙏💐
img
img
img
comment
2
img
Carpenter
होंगे तेरे रिकॉर्ड में 8 अजुबे 😪 हमारा तो पहला अजुबा ,माँ ह जी ☺️💐🌹🙏
img
img
comment
4
img
Carpenter
रिटायर थानेदार ),और (जेल काट आया चोर ,पडोसी गाँव के ,आज बीती बातों पे बैठे हॅंस रहे हं 🤣दिवार फांदते चोर की अंगुली पकड़ी गई थी चोर चिल्लाया ,मेरी अंगुली में फोड़ा दुखा दिया पुलिस वाले ने तुरंत अंगुली छोड़ी 🤣😂चोर फरार 🤣 (जीवन में क्या रोल निभा आये ,,इसका गए वक्त में बैठे ,हसीं आएगी ) सारा जगत एक झूठी सी लीला 🙏🙏💐
img
img
comment
1
img
Carpenter
खेत में बगैर ज्वार ,खाली हल जोत धन्ना भगत ,विचार में बैठा ,,बीवी बगैर निपजै खेत देख गुस्सा तो होगी ,,बाजार से बीज ले चला था रस्ते में भूखे साधुओ को खिला आया ,😔औरों के खेत जवार से भरे निपजे ,,धना के तुम्बे बैलो से खेत भरा ,,करनी मालिक की बीवी आई , गुस्से में तुम्बा धन्ना को दे मारा ,,तुम्बा फूटा ,भरा ज्वार का ,इतना अनाज पहले नहीं हुवा ☺️☺️🙏🙏💐
img
img
comment