koo-logo
back
Ministry of Ayush badge_img
back

Ministry of Ayush badge_img

@moayush

Government Services

Ministry of Ayush was formed to ensure the optimal development and propagation of Ayush systems of health care.

calenderhttps://www.ayush.gov.in/

calender May 2021 में कू पर आए।

कू (96)
पसंद किया
रिकू और कमेंट
मेंशन्स
Government Services
आज लोकसभा में प्रश्नोत्तर के दौरान माननीय आयुष मंत्री श्री सर्बानंद सोनोवाल जी ने जानकारी दी कि कोरोना काल में देश में अधिक से अधिक लोगों को आयुष चिकित्सा पद्धतियों का लाभ देने का प्रयास किया गया है। इसके लिए समय-समय पर आवश्यक दिशा-निर्देशों से लेकर आयुष औषधियों तक का वितरण तक किया गया है। (@लोकसभा प्रश्नोत्तर)
img
img
comment
1
Government Services
आज लोकसभा में पूछे गए प्रश्न का उत्तर देते हुए माननीय आयुष मंत्री श्री सर्बानंद सोनोवाल जी ने जानकारी दी कि आयुर्वेद और योग की मांग अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी बढ़ गई है और आयुष पद्धतियों की लोकप्रियता भी लगातार बढ़ रही है। अब विश्व के अनेक देश उनकी आवश्यकता और उनके महत्व को समझ रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि विश्व के किन देशों में कौन सी आयुष पद्धतियों को मान्यता प्राप्त है।
img
img
comment
Government Services
लगभग 2500 वर्ष पूर्व ग्रीस से शुरू हुई यूनानी चिकित्सा भारत में एक लोकप्रिय पद्धति है। यह मुख्यतः 4 देहद्रवों (ह्युमरल थ्योरी) - दम (रक्त), बलगम (कफ), सफरा (पीला पित्त) और सौदा (काला पित्त) पर आधारित है। यूनानी प्रणाली के अनुसार मानव शरीर में सात मुख्य घटक होते हैं।
img
comment
1
Government Services
ब्रह्म मुहूर्त में उठने के क्या लाभ हैं ? नासिका शुद्धि क्रिया के क्या फायदे हैं ? स्नान करने का सही तरीका क्या है और रात्रि के समय भोजन कब करना चाहिए ? इसी तरह के कई महत्वपूर्ण प्रश्नों के उत्तर आयुर्वेद की दिनचर्या के अनुसार आपको इस वीडियो के माध्यम से मिल जाएंगे। इसलिए इस वीडियो को देखें और दूसरों से भी शेयर करें।
play
comment
1
Government Services
आयुष-64 क्या है ? कोरोना संक्रमण में इसके लाभ क्या हैं ? आयुष-64 का सेवन कैसे और किसे करना चाहिए ? ऐसे कई प्रश्नों के उत्तर आपको इस वीडियो में मिल जाएंगे। इसलिए इस वीडियो को देखें और दूसरों से भी शेयर करें। किसी भी औषधि के सेवन से पहले विशेषज्ञ से परामर्श जरूर लें। #Ayush64 #Ayush
play
comment
2
Government Services
देश में आयुष के क्षेत्र में अवसरों को और बढ़ाने के लिए एक प्रयास मध्य प्रदेश में भी किया गया है। भोपाल में अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आयुष आधारित आर्थिक उन्नयन योजना ‘देवारण्य’ संबंधी कार्यशाला का आयोजन 26 जुलाई को किया गया।
img
img
img
img
comment
3
Government Services
होम्योपैथी भारत में वैकल्पिक चिकित्सा पद्धति के रूप में दूसरी सबसे लोकप्रिय चिकित्सा प्रणाली है, जिसे 10 करोड़ से अधिक लोगों का भरोसा प्राप्त है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी पाया है कि यह विश्व की दूसरी सबसे अधिक लोकप्रिय चिकित्सा पद्धति है।
play
comment
1
Government Services
भारत ही नहीं बल्कि विश्व के 80 से अधिक देशों में होम्योपैथी का प्रयोग किया जाता है। 42 देशों में भरोसेमंद औषधि के रूप में इसे कानूनी मान्यता प्राप्त है, 28 देशों में पूरक और वैकल्पिक चिकित्सा के रूप में इसे स्वीकृति दी गई है, इतना ही नहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने होम्योपैथी को पारंपरिक और पूरक औषधि के रूप में सबसे अधिक प्रयोग में लाई जाने वाली चिकित्सा पद्धति माना है।
play
comment
Government Services
इतिहास से जुड़ी दुर्लभ कलाकृतियों के रूप में ऐसी औषधियां जो 7 हजार वर्षों से भी अधिक प्राचीन हैं... ऐसे दस्तावेज जो आयुर्वेद की औषधियों का सबसे पुरातन प्रमाण हैं... आज भी उसी रूप में उपलब्ध हैं। मध्यप्रदेश के उत्तर पूर्वी विंध्य में जले हुए “आमलकी फल” मिले हैं, मध्यप्रदेश के ही टोकवा में जले हुए “हरीतकी फल” मिले हैं और यूपी के टोकवा में जले हुए “जौ के दाने” मिले हैं... सब 7 हजार ईसा पूर्व के।
img
comment
2
Government Services
भारत में होम्योपैथी करीब 200 साल पहले शुरू हुई। आज यह देश की बहुत बड़ी आबादी की भरोसेमंद उपचार व्यवस्था है। भारत सरकार के आयुष मंत्रालय और राज्य सरकारों के सहयोग से आज देश में 195 स्नातक, 43 स्नातकोत्तर मेडिकल कॉलेज, 22 संस्थान व स्वायत्त अनुसंधान परिषद, 235 होम्योपैथी चिकित्सालय, 8 हजार 117 औषधालय और लगभग 2 लाख 83 हजार 840 पंजीकृत होम्योपैथिक प्रैक्टिशनर हैं।
play
comment
2