backगीता सिंहback

गीता सिंह

@gita_singh

गृहणी

मेरे तो गिरधर गोपाल दूसरो न कोय, राधे राधे जी🙏

calender July 2020 में कू पर आए।

कू (461)
पसंद किया
रिकू और कमेंट
मेंशन्स
img
गृहणी
वन्‍दहुं विनायक,विधि-विधायक, ऋद्धि - सिद्धि. प्रदायकम् ! गजकर्ण, लम्बोदर, गजानन, वक्रतुण्ड, सुनायकम् !! श्री एकदन्त, विकट, उमासुत, भालचन्द्र भजामिहम ! विघ्नेश,सुख - लाभेश, गणपति, श्री गणेश नमामिहम !!!🚩 🌹सुप्रभातम्🙏
re2
like15
WhatsApp
img
गृहणी
बीजली ⚡गिरने⛈ से पप्पू की मौत हो गई😨 पप्पू हंसते मुँह मारा गया यमराज: बडे जांबाज आदमी हो तुम यार👏 सामने मौत थी फिर भी तेरे चेहरे पे स्माइल😊 थी👏👏 🤔कैसे संभव हुआ ये?? पप्पू: मेको लगा कोई फोटो 📷खींच रहा यार😔😔 शुभ रात्रि🌹
re1
like15
WhatsApp
img
गृहणी
मेरी "नस-नस" मे "इश्क" तेरा ही "सफर" कर रहा है अब क्या "दिल" क्या "धड़कन" "मुहब्बत" तेरी "बयाँ" कर रहा है हर "लम्हें" तेरा "अहसास" होता है "रूह" तेरा हर "लफ्ज" पढ़ रहा है शुभ संध्या 🌹🍮
re3
like20
WhatsApp
img
गृहणी
🌺🌿🌺ॐ नमः शिवाय🌺🌿🌺 🌿पार लगा दो भव सागर से, बनकर कर्णाधार हरे जय शिवशंकर, जय गंगाधर, करुणा-कर करतार हरे, जय कैलाशी, जय अविनाशी, सुखराशि, सुख-सार हरे जय शशि-शेखर, जय डमरू-धर जय-जय प्रेमागार हरे,🚩🙏
re2
like21
WhatsApp
img
गृहणी
रिपोर्टर : क्या आप जॉब करते हैं पप्पू : नहीं, सिंगर हूँ रिपोर्टर : फिर कुछ गाकर सुनाइए पप्पू : नहीं...मैं नही गाऊंगा रिपोर्टर : क्यो..😨 पप्पू : मोहल्ले वाले चुप रहने के ₹15 हजार महीना देते हैं 😜😂😂 शुभ रात्रि 🌹
re4
like27
WhatsApp
img
गृहणी
नमस्ते ब्रह्मा रूपाय नमस्ते विष्णु रूपीने। नमस्ते रूद्र रूपाय भास्कराय नमो नमः।। 🌻 सत्या ज्ञान स्वरूपाय सहरसा किर्णायचा। गीर्वाना भीती नाशाय भास्कराय नमो नमः।। 🌹 ॐ आदित्याय विद्महे प्रभाकराय धीमहि तन्नो सूर्यः प्रचोदयात्।।🚩 🌞ॐ सूर्याय नमः💐🙏
re3
like28
WhatsApp
img
गृहणी
दोस्त: तुमने शादी क्यो नही की पप्पू: जिस लडकी से मिलता था उसकी गोद मे बच्चा होता था दोस्त: अवे वो लडकिया उन बच्चो की बुआ भी तो हो सकती हैं पप्पू: कोई लडकी किसी कु..त्ते के बच्चे की बुआ कैसे हो सकती है 😲 😂😂😂😂 शुभ रात्रि 🌹
re4
like28
WhatsApp
img
गृहणी
मंगल भवन अमंगल हारी । द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी ।। अर्थ: जो मंगल करने वाले और अमंगल हो दूर करने वाले है, वो दशरथ नंदन श्री राम है हम उनको कोटि-कोटि प्रणाम करते है।🚩 सियावर रामचन्द्र की जय🌷🙏 जय हनुमान 🚩🙏
re1
like30
WhatsApp
img
गृहणी
मंगल भवन अमंगल हारी । द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी ।। अर्थ: जो मंगल करने वाले और अमंगल को दूर करने वाले है, वो दशरथ नंदन श्री राम है हम उनको कोटि-कोटि प्रणाम करते है।🚩 सियावर रामचन्द्र की जय💐🙏 जय हनुमान 🚩🙏
re1
like18
WhatsApp
img
गृहणी
अब "किसने" उड़ा दी "अफवाह" "इश्क" मे "बेवफाई" होने के बाद "बिखरे" लफ्ज "समेटते" है और "अक्सर" लोग "कवि" बन जाते है #काश ये सच होता #शायद हो मगर फिर भी वो #उफ्फ़ न करते.... शुभ संध्या 🌹🍮
re5
like71
WhatsApp
ask