backBalram_Dhuliya✔️back

Balram_Dhuliya✔️

@balram_dhuliya

Teacher

जय हिंद जय भारत

calendergov.in

calender Aug 2020 में कू पर आए।

कू (112)
पसंद किया
रिकू और कमेंट
मेंशन्स
img
Teacher
“पता नहीं क्यों लोग रिश्ते छोड़ देते हैं लेकिन ज़िद नहीं छोड़ते”
like1
comment
re
WhatsApp
img
Teacher
“ताक़त और पैसा ज़िंदगी के फल हैं, परिवार और मित्र ज़िंदगी की जड़ हैं”
like
comment
re
WhatsApp
img
Teacher
“लोग कीचड़ से बचकर चलते हैं कि कहीं कपड़े ख़राब ना हो जायें..पर कीचड़ को घमण्ड हो जाता है कि लोग उससे डरते हैं”
like
comment
re
WhatsApp
img
Teacher
जीवन एक ऐसा रंगमंच है, जहां किरदार को खुद नहीं पता होता, कि अगला दृश्य क्या होगा..!
like3
comment
re
WhatsApp
img
Teacher
“जब आप ऊँचाइयों की सीढ़ियाँ चढ़ रहे हों तो पीछे छूटे लोगों से बहुत अच्छा व्यवहार करें, क्योंकि उतरते समय वही लोग आपको रास्ते में फिर मिलेंगे”
like11
re1
WhatsApp
img
Teacher
“दुनिया के रैन बसेरे में पता नहीं कितने दिन रहना है, सबके दिलों को जीत लो, यही जीवन का गहना है”
like4
comment
re1
WhatsApp
img
Teacher
“किसी बच्चे को उपहार ना दिए जाएँ तो वो थोड़ी देर रोएगा, और अगर संस्कार ना दिए जाएँ तो जीवन भर रोएगा”
like3
comment
re
WhatsApp
img
Teacher
आहिस्ता चल जिंदगी,अभी कई कर्ज चुकाना बाकी है। कुछ दर्द मिटाना बाकी है,कुछ फ़र्ज़ निभाना बाकी है। रफ्तार में तेरे चलने से कुछ रूठ गए,कुछ छूट गए। रूठो को मानना बाकी है,रोते हुए को हसाना बाकी है। कुछ हसरतें अभी अधूरी है,कुछ काम है जो और भी जरूरी है।
like5
comment
re1
WhatsApp
img
Teacher
आजादी अच्छी चीज है लेकिन कबूतर को आजाद कराने के लिए दरवाजा अगर बिल्ली खोले तो? समझदारी पिंजरे में रहने में है। लाँकडाउन में छूट सरकार ने दे रखी है कोरोना ने नहीं । इसलिए सतर्क रहिये ! सुरक्षित रहिये !
like3
re1
WhatsApp
img
Teacher
”मोह में हम बुराइयां नहीं देख पाते और घृणा में हम अच्छाइयां नहीं देख‌ पाते”
like3
comment
re1
WhatsApp
ask