koo-logo
koo-logo
back
एस के सिंह
shareblock

एस के सिंह

@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

calender Joined on June 2021

KooKooKoo(793)
LikedLikedLiked(55099)
Re-Koo & CommentRe-Koo & CommentRe-Koo & Comment(3791)
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🌹🌹🌹🌼🌼रात्रि धीरे - धीरे अपने परिधि में चलती हुई दूसरे पह की तरफ बढ़ रही है अतः भोजन आदि से निवस्त्र होकर शयन कक्ष की चलने की तैयारी करें... जय जय हनुमान
commentcomment
1
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🌹🌹🤩😍🥰 प्यार करने की उम्र देखी नहीं जाती है। प्यार करने वाला या प्यार करने वाली ही देखी जाती है ।।
commentcomment
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🌼🌼🌼🌼🌼💮 नित्य ध्यान शिव शंकर का धरा करो, जन्म मुक्ति का साधन सुगम हदय स करा करो।
commentcomment
2
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🌹🌹🌺🥀🌸💮 आज राम भक्त हनुमान का शुभ दिन है और इस दिन की पूजा आराधना विशेष कर महत्वपूर्ण है जय श्री राम
commentcomment
3
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🌹🥀🌺🌺🌼 नारी की ममता और प्रेम सदा ही शाश्वत होता है । वह किसी भी रूप में हो पर उसका ये स्वभाव हमेशा ही रहता है ।।
commentcomment
1
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

😅😂😭 श्मशान में जलती लकडि़यों पर शव ही भस्म होता है । कुछ फूल और भस्म फिर गंगा जी जल में प्रवाह करते हैं ।।
commentcomment
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🥰😍🤩 कभी जब हम यूँ हुआ करते थे , बहारों से कलियों का पता भी न था । आज दुनियाँ बदल रही है लोग बदल रहे हैं और मैं भी पहले वाला न था ।।
commentcomment
1
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🥰😍🤩 जवानी कब यूँ आयी और यूँ कब चली गयी मुझे कुछ पता ही न चला । लुटे अरमान जब दिल के तभी तो आज पता चला ।।
commentcomment
3
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🌹🌹🌹दिल बहुत परेशान रहता है जख्मों की परेशानी से । कोई मलहम ही लगा जावे थोडी़ सी मेहरबानी से ।।😅😂
commentcomment
img
@CTNUI

कविता और शायरी ,गजल और गम में जीना सीखा

🌾🌾🌹🌹🌹आइए शुभ संध्या पर श्री राधे कृष्ण का पूजन आरती ध्यानादि करें .....जय श्री राधे राधे श्री कृष्णा ...
commentcomment
4
create koo