backरोली कटियारback

रोली कटियार

@रोली_कटियार

Member Of Magzine

अपनी राय कू करें

calenderhttps://www.kooapp.com/profile/रोली_कटियार

calender Oct 2020 Joined on

Koo (24)
Liked
Re-Koo & Comment
Mentions
img
Member Of Magzine
Need some writer who is comfortable with my e-magazine. Can pay 150 rs..
like2
comment
re1
WhatsApp
img
Member Of Magzine
Anyone publish ur story plz contact me ..
like1
comment
re
WhatsApp
img
Member Of Magzine
If anyone interested for published Ur poem , plz contact me , we launched monthly e- magazine..
like4
comment
re1
WhatsApp
img
Member Of Magzine
ही रहता है जब वक्त जब बदल जाता है और बदलते वक्त के साथ जब अपने बदल जाते हैं तो अपनों का ही इंतजार रहता है।।
like31
re4
WhatsApp
img
Member Of Magzine
सब कुछ थम जाता है बस एक तेरी यादों का सिलसिला है जो नहीं थमता ।।
like24
re3
WhatsApp
img
Member Of Magzine
एक हाथ से ताली का बजना संभव है। कलयुग है साहेब सब कुछ संभव है।। एक तरफ से रिश्ता निभाना संभव है । कलयुग है साहेब सब कुछ संभव है।। जी हुजूरी को ही बस सलाम है । कलयुग है साहेब सब कुछ संभव है ।। Whatsap के status देख कर चल रहे रिश्ते। कलयुग है साहेब सब कुछ संभव है।।
like20
re4
WhatsApp
img
Member Of Magzine
need hindi writes
like22
re4
WhatsApp
ask