koo-logo
backKoo
मन से जियो
comment

More Koos from this user

dropdown-menu
दीपक की रोशनी से किसे को ठोकर न लगये जय श्री कृष्णा जय श्री राम जय माता दी जय भोलेनाथ शुभ रात्रि
comment
dropdown-menu
इंसान एक दुकान है
comment
dropdown-menu
रोटी को न तरसे
comment
dropdown-menu
दिल की अदालत .सत्य है आज दुनिया की एक दूसरे की देखकर फुर्सत नहीं दुनिया को देखा गम दर्द मिले दिल से बात किया ख़ुश सूंदर कर्म
comment
dropdown-menu
दोस्ती के चिराग ..
comment
dropdown-menu
गिरी .. सोच
comment
dropdown-menu
इंसान कभी कभी
comment
dropdown-menu
परम सत्य
comment
dropdown-menu
मुठी में काच की टुकड़े दबाना ..फिर मुस्कुराना
comment
dropdown-menu
तेरी यादे .. जगजीत जी सूंदर पक्तिया
comment