koo-logo
BackbackKoo - Shipra RanjanGo to Feed
उजाले में हर असलियत कहां नज़र आती है,* *अंधेरा ही बता सकता है कि सितारा कहां है।*
commentcomment
5

Comments

img
02 Oct
commentcomment
img
@संजय_कुमार_सिंहIGCVG

Social Worker And Construction Supervisor

Good morning 🌄
commentcomment
img
29 Sep
बहोत सून्दर
commentcomment
img
आप कैसे हैं मैडम अंग्रेजी नहीं पढ़ा हूं सिरोही रिश्ते की बात कर रही हो रिश्ते में बहुत प्रेम भी है दुख ही है इंसान को निभाना मुश्किल होता है नहीं प्लीज होता है तो क्या करें इंसान जीवन बहुत खराब होता है अच्छा भी आता है उसे संभालना बहुत बड़ा होता है ओके बाय बाय अपने अंदर सारी खुशियां भाई नहीं भाई गुड मॉर्निंग मैडम
commentcomment
img
27 Sep
राइट
commentcomment

More Koos from Shipra Ranjan

@shipra_ranjan

Life Coach

*मैं चलता गया, रास्ते मिलते गये !* *राह के काँटे फूल बनकर खिलते गये !!*
commentcomment
7
@shipra_ranjan

Life Coach

यहाँ तो समंदर भी बड़ा मतलबी निकला यार,, जान लेकर लहरों से कहता है लाश को किनारे लगा दो..!!
commentcomment
6
@shipra_ranjan

Life Coach

गलती पर साथ छोड़ने वाले तो बहुत मिलते हैं, परन्तु समझा कर साथ निभाने वाले बहुत कम मिलते हैं...🌹*
commentcomment
11
@shipra_ranjan

Life Coach

जिसे जीना आता है वह बिना किसी सुविधा के भी खुश मिलेगा....*.. *जिसे जीना नहीं आता वह सभी सुविधाओं के होते हुए भी दुखी मिलेगा!* *अनुभव की भट्टी में जो तपते है...... दुनिया के बाजार में वही सिक्के चलते हैं!*
commentcomment
12
@shipra_ranjan

Life Coach

यदि हमारी आदतों में,* *गुस्सा और घमंड है,* *तो हमें बर्बाद करने के लिए,* *दुश्मन नहीं, हम खुद ही काफी है...
commentcomment
9
@shipra_ranjan

Life Coach

*🙏🏻” स्वयं को माचिस की तीली न बनाएँ जो थोड़ा सा घर्षण लगते ही सुलग उठे* *अपितु स्वयं को वह शांत सरोवर बनाएँ जिसमें कोई अंगारा भी फैंके तो वह खुद ही बुझ जाए...!!!🙏🏻*
commentcomment
5
@shipra_ranjan

Life Coach

*एक ”बार” एक ”व्यक्ति” ने* *दूसरे ”व्यक्ति” से* *पूछा कि आप ”बिना कारण”* *”सुबह”-सुबह ”लोगों” को* *”शुभ संदेश”* *क्यों ”भेजते” हो* *उस ”व्यक्ति” ने बहुत* *”सुंदर” जवाब दिया* *”श्रीमान” आप कारण ”ढूंढते” हो* *मैं ”संबंध” ढूंढता हूं*
commentcomment
15
@shipra_ranjan

Life Coach

*बुद्वि लोहा नही, फिर भी, जंग लग जाती है!* *आत्मसम्मान शरीर नहीं, फिर भी, घायल हो जाता है! और..,* *इन्सान मौसम नही, फिर भी, बदल जाता है!....*
commentcomment
12
@shipra_ranjan

Life Coach

“अच्छे लोगों की सबसे बड़ी खूबी यह होती है कि उन्हें याद रखना नहीं पड़ता, वो याद रह जाते है”
commentcomment
7
@shipra_ranjan

Life Coach

*_”सभी को यह ट्रिपल सत्य सिखाएं: उदार हृदय, दयालु भाषण, और सेवा और करुणा का जीवन ऐसी चीजें हैं जो मानवता को नवीनीकृत करती हैं।”_*
commentcomment
5
create koo