koo-logo
BackbackKoo - Shipra RanjanGo to Feed
लगन लगी है तुमसे बस यही खता है मेरी तू शक्ति है मेरी और तु ही कमजोरी मेरी।।
commentcomment
1

Comments

img
बढ़िया
commentcomment

More Koos from Shipra Ranjan

@shipra_ranjan

Life Coach

*मैं चलता गया, रास्ते मिलते गये !* *राह के काँटे फूल बनकर खिलते गये !!*
commentcomment
7
@shipra_ranjan

Life Coach

यहाँ तो समंदर भी बड़ा मतलबी निकला यार,, जान लेकर लहरों से कहता है लाश को किनारे लगा दो..!!
commentcomment
6
@shipra_ranjan

Life Coach

गलती पर साथ छोड़ने वाले तो बहुत मिलते हैं, परन्तु समझा कर साथ निभाने वाले बहुत कम मिलते हैं...🌹*
commentcomment
11
@shipra_ranjan

Life Coach

जिसे जीना आता है वह बिना किसी सुविधा के भी खुश मिलेगा....*.. *जिसे जीना नहीं आता वह सभी सुविधाओं के होते हुए भी दुखी मिलेगा!* *अनुभव की भट्टी में जो तपते है...... दुनिया के बाजार में वही सिक्के चलते हैं!*
commentcomment
12
@shipra_ranjan

Life Coach

यदि हमारी आदतों में,* *गुस्सा और घमंड है,* *तो हमें बर्बाद करने के लिए,* *दुश्मन नहीं, हम खुद ही काफी है...
commentcomment
9
@shipra_ranjan

Life Coach

*🙏🏻” स्वयं को माचिस की तीली न बनाएँ जो थोड़ा सा घर्षण लगते ही सुलग उठे* *अपितु स्वयं को वह शांत सरोवर बनाएँ जिसमें कोई अंगारा भी फैंके तो वह खुद ही बुझ जाए...!!!🙏🏻*
commentcomment
5
@shipra_ranjan

Life Coach

*एक ”बार” एक ”व्यक्ति” ने* *दूसरे ”व्यक्ति” से* *पूछा कि आप ”बिना कारण”* *”सुबह”-सुबह ”लोगों” को* *”शुभ संदेश”* *क्यों ”भेजते” हो* *उस ”व्यक्ति” ने बहुत* *”सुंदर” जवाब दिया* *”श्रीमान” आप कारण ”ढूंढते” हो* *मैं ”संबंध” ढूंढता हूं*
commentcomment
15
@shipra_ranjan

Life Coach

*बुद्वि लोहा नही, फिर भी, जंग लग जाती है!* *आत्मसम्मान शरीर नहीं, फिर भी, घायल हो जाता है! और..,* *इन्सान मौसम नही, फिर भी, बदल जाता है!....*
commentcomment
12
@shipra_ranjan

Life Coach

“अच्छे लोगों की सबसे बड़ी खूबी यह होती है कि उन्हें याद रखना नहीं पड़ता, वो याद रह जाते है”
commentcomment
7
@shipra_ranjan

Life Coach

*_”सभी को यह ट्रिपल सत्य सिखाएं: उदार हृदय, दयालु भाषण, और सेवा और करुणा का जीवन ऐसी चीजें हैं जो मानवता को नवीनीकृत करती हैं।”_*
commentcomment
5
create koo