koo-logo
koo-logo
backKoo - R P GangwarGo to Feed
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म ५६ खोखली हंसी, खोखले वाक्य ,खोखले भाषण आम हो गये हैं! जब बात में सच्चाई न हों तो खोखलापन आ ही जाता है! झूठे वाक्य भाव विहीन होते हैं और सच्चाई भावपूर्ण! व्यक्ति के हाव भाव, आंखें, शब्द सब सच्चाई बयान करते हैं! सच्चाई जानने के लिए किसी मशीन की आवश्यकता नहीं! बहुत से निर्णय जज अपने विशेषाधिकार से लेते हैं! सच्चाई दिखने पर मी लार्डस को यथोचित निर्णय लेना ही चाहिए! शुभप्रभात मित्रो!
commentcomment
44

Comment

img
🌅🌺 सुप्रभातम मित्र 🌅 🚩जय श्री राधे कृष्ण 🚩🙏
commentcomment
img
@sushil.4869

Business Owner

ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय नमः 🙏🚩🚩
commentcomment
img
@pappu_kumar_yadav48JU3

पेंटर ठिकेदार

जय श्री कृष्ण राधे राधे जी शुभ गुरूवार 🙏🚩🚩🏹📿🕉️🐚🙏
commentcomment
img
जय श्री कृष्ण
commentcomment
1
img
@S_K_Nagaich

Tent Hous

जय श्री कृष्ण
commentcomment
img
जय श्री कृष्णा
commentcomment
img
21 Oct
@kanhaiya555

Business Owner

जय श्री कृष्णा🙏🏻
commentcomment
1
img
जय श्री कृष्णा
commentcomment
img
@adarsh8788

हिन्दू सनातनी🚩🚩🚩🚩🚩

जय श्री हरि 🙏🙏
commentcomment
img
@Aavishkar

Discovering self

सुप्रभात मीत्र 🙏🌄 जय श्रीकृष्ण 🙏🚩
commentcomment
1

More Koos by this user

img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (८०) न जाति का न पांति का, न पक्ष का न विपक्ष का । मैं तो पक्षधर हूं , ज्ञान और सत्य का।। हे पशुओ ! सामने का चारा छोड़कर, जरा दूर का देखो। एक कसाई गणासी लिए, तुम्हारी ही ओर आ रहा है।। तुम्हें काट देगा, डर यह नहीं। डर है कि कहीं सत्य और ज्ञान की लौ, इस बार बिल्कुल न बुझ जाए।। और रह जाए धुप्प अंधेरा, हमारे बच्चों के लिए??? जय श्रीकृष्णा मित्रो।
commentcomment
49
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (९९) आज के युग में अस्त्र से अधिक महत्व प्रचार का है! आज आप महाराष्ट्र या बंगाल में अस्त्र की तो छोड़िए, मुंह तक नहीं खोल सकते? वहां की सरकारें प्रचार माध्यमों को ठंडा कर देती हैं और अपनी दहशत कायम करतीं हैं! बड़ी बड़ी बातें समय की धूल से ढ़क जातीं हैं, याद रहती है तो उनकी दहशत! नतीजा यह? कि लोग फिर उन्हीं को चुन लेते हैं! इसलिए मित्रो सोशल मीडिया से प्रचार को सशक्त करो! जय श्री राम!
commentcomment
41
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (७९) यदि कोई व्यक्ति निष्पक्ष होकर सोचे? तो निश्चित है ! वह सनातन के पक्ष में स्वयं ही खड़ा हो जाएगा! क्यों कि सनातन स्वयं में निष्पक्ष है!! और जो लोग अपने को निरपेक्ष कहते हैं, वह निष्पक्ष नहीं हैं! वह स्वार्थवृत्ति से ग्रसित, लालची, मौकापरस्त और पक्षपाती लोग हैं!! जय श्रीकृष्णा मित्रो।
commentcomment
54
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (९८) जहां भाजपा पावर में है, वहां घटना होने के बाद अपने लोगों पर कार्यवाही करे, तो भी पूरे देश में हाहाकार! इतना दवाव कि पीट पीट कर निर्मम हत्या करने वाले मस्त हैं! इसके उलट जहां भाजपा नहीं है, वहां कोई घटना घटे तो कार्यवाही दूर की बात है, पुलिस गिरफ्तार तक नहीं करती। बंगाल में विक्टिम को ही गलत साबित करना, महाराष्ट्र में बच्चा चोर बता नेता खुद खड़े होकर मरबा डाले। कोई उफ भी नहीं करेगा!
commentcomment
30
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#उलझे_प्रश्न__प्रगतिबाधक_भ्रष्टाचार (१९) वाह रे , सुप्रीमकोर्ट वाह! फटकार लगाई तो क्या लगाई? स्कूल क्यों खोल रहे हो? अरे इस नाकारा बहानेबाज मुख्यमंत्री को कुछ ठोस करने के लिए क्यों नहीं करते? कभी आड़ ईबिन, कभी पराली, कभी चौराहे पर वाहन बन्द रखो, कभी रोड़ निर्माण बंद, कभी स्कूल बंद, सब मुंह चलाने बाले काम हैं! वही करने के लिए आप कह रहे हो? उसे तो मौका चाहिए? वह आप ने दे दिया! 🙏
commentcomment
22
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (७८) आध्यात्म और विज्ञान दोनों में कोई अन्तर नहीं है! अन्तर केवल ज्ञान का है! यह आवश्यक नहीं ,कि चार किताबें पढ़कर आप ज्ञानी हो गये? बिभिन्न पृक्रियाओ और कर्म कांड़ों की आलोचना बिना विश्लेषण के करना अज्ञान से अधिक कुछ नहीं! आइन्सटाइन जैसे महान वैज्ञानिक, महान आध्यात्मवेत्ता भी थे! किसी भी विषय पर तर्क आमंत्रित है!
commentcomment
38
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (९७) मौका मिलने पर हिंदुओं के साथ बर्बर अत्याचारों को अंजाम दिलबाने बाले लोग, इलेक्शन के समय मन्दिरों में घंटे बजाने लगते हैं! मंहगाई, गरीबी और रोजगार का ऐसे प्रचार करते हैं कि जैसे आते ही वह जादू की छड़ी घुमा देंगे? जनता को यह समझ नहीं आता कि राष्ट्रद्रोही, राष्ट्र के लिए कुछ नहीं कर सकता? इसलिए सरकार चुनने से पहले यह जरुर देख लीजिए कि राष्ट्र और धर्म के लिए उन्होंने क्या किया है?
commentcomment
56
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (७७) हमारे मन में आने बाला हर विचार, हमारे शरीर में अपनी प्रतिक्रिया देता है! पुण्य और पाप का वैज्ञानिक आधार यहीं से स्थापित होता है! हर विचार पर हमारे शरीर की ग्रन्थियां एक रस स्रवित करतीं हैं! कुछ रसायन हमारे शरीर को हानिकारक और कुछ लाभदायक होते है! हानिकारक रसायनों की उत्पत्ति करने बाले कर्म ही पाप कहलाते हैं! यह तर्ग संगत रूप से अगले अंको में रखूंगा! जय श्री कृष्णा मित्रो
commentcomment
50
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#उलझे_प्रश्न__प्रगतिबाधक_भ्रष्टाचार (१८) मित्रो इससे पहले महभारत (९६), लोगों को पसन्द नहीं आया, लाइक स्वयं बता रहे हैं? चार लोग कू पर अपने को शुद्व सनातनी और देश भक्त की भूमिका निभाने के लिए एकत्रित हुए! परन्तु सोचिये कि आपकी सोच और आपका लेखन मेल खाता है क्या? आप सभी लिखते हो कि हिन्दू संगठित नहीं हैं, परन्तु आप खुद खेमेंबाजी में उलझे रहना पसन्द करते है, यही हालत तो देश की है! सोचिए?
commentcomment
29
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (९६) मित्रो हम हमारी पोस्टों से संगठित प्रयास करके लोगों को राष्ट्र और धर्म के प्रति थोड़ा भी जागरूक कर पाए तो हम सफल माने जाएंगे! पोस्टों के माध्यम से एक दूसरे पर आरोप लगाने से हम खेमों में बंट जाएंगे! हर बात के दो अर्थ लगाये जा सकते हैं! यह भी तो हो सकता है कि हम वह अर्थ लगा रहे हों, जो दूसरे का था ही नहीं? युद्ध क्षेत्र में दुश्मन से दृष्टि हटाकर खुद में लड़ने लगोगे, तो कैसे चलेगा?🙏
commentcomment
30
create koo