koo-logo
koo-logo
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#सनातन_संकट_एक_होजाओ मुझसे विचार साझा करते रहने के लिए, मैं आपका आभारी हूं। आप सदा प्रसन्न‌रहें। जय श्री कृष्णा मित्र। 🙏
commentcomment
0

More Koos by this user

img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (११३) अखिलेश का यह बयान कि पाकिस्तान हमारे देश का दुश्मन नहीं है! मतलब वह आतंकवादी जो पाकिस्तान भेजता है, उससे उन्हें कोई दिक्कत नहीं ! मैं यादव भाई-बहनों को निवेदन करना चाहता हूं,कि अब तो समझ जाओ कि अखिलेश किधर जा रहा है और तुम्हें कहां ले जाकर छोड़ेगा! स्वार्थी लोग किसी के नहीं होते, तत्काल लाभ के लिए इसके पीछे चलना छोड़ दो! वक्त आने पर यह मुल्ला बन जाएगा क्या तुम ऐसा कर पाओगे?
commentcomment
41
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (११३) भारत फिर से विश्वगुरु बनेगा! यह उदघोष गुरुदेव श्रीराम शर्मा आचार्य जी ने बहुत पहले ही कर दिया था! वह इसके लिए आध्यात्मिक स्तर पर सतत प्रयास रत रहे! मोदी जी ने इस परिकल्पना को मूर्त रूप दिया! उनकी सशक्त कूटनीति के कारण अन्तर्राष्ट्रीय न्यायालय में मुख्य न्यायाधीश के लिए न्यायमुर्ति दलवीर भंडारी को चुना गया! यह भारत के विश्वगुरू बनने की दिशा में बहुत बड़ा कदम है! जय श्रीकृष्णा!
commentcomment
50
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (११२) राजा प्रजा का पालक होता है, रक्षक होता है, सबके लिए समदृष्टि रखता है! दुष्टों को दंड भी देता है, जिससे सब निर्भय होकर रह सकें! वह प्रजा बहुत भाग्य शाली होती है जिसे ऐसा धर्मात्मा राजा मिलता है! ऐसे राजा के लिए प्रजा भी अपना सर्वस्व देने के लिए तैयार रहती है! आज ऐसे ही राजा को केवल आपका समर्थन चाहिए! वह भी इस लिए कि किसी दुष्ट,अधर्मी राजा से आपकी रक्षा कर सके! जय श्रीकृष्णा!
commentcomment
66
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (११२) अंग्रेजों द्वारा बनाये गये इंडिया गेट पर १९७१ में ज्योति जलाकर कर कांग्रेेस ने शहीदों के नाम पर खाना पूरी की थी! नेशलन वार मैमोरियल की डिमांड को पूरा नहीं किया! अब जब वार मेमोरियल बन गया है, तो अमर शहीद लौ को उचित स्थान दिया जाना भी बुरा लग रहा है! नेता जी सुभाषचंद्र बोस को सम्मान देना भी नहीं पच रहा है! ७० साल गांधी, नेहरू खूब चमकाया गया, अब चमक धूमिल होती प्रतीत हो रही है!
commentcomment
44
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (१११) मन,बचन और कर्म में समानता स्वस्थ चिंतन के लिए आवश्यक होती है! स्वस्थ चिंतन बाला व्यक्ति ही संकल्प के महत्व को समझता है और उसी का संकल्प सिद्ध होता है! उनका संकल्प कभी सिद्ध नहीं हो सकता जिन्होनें अपना विकल्प करहल चुना! जहां कहते थे,काम किया, वहां नहीं! यादव बैल्ट में भाग कर सहारा ढूंढ़ा! बिल्कुल वाइनाड की तरह! जय श्री कृष्णा!
commentcomment
51
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#उलझे_प्रश्न__प्रगतिबाधक_भ्रष्टाचार (३०) .एक कहती है लड़की हूं लड़ सकती हूं! एक कहता है लड़के हैं, गलती हो जाती है! कमाल के फार्मूले हैं! एक गुंड़ों को गुड़ा गर्दी की खुली छूट देता है, और दूसरी लड़की की लडांई कानून व्यवस्था कायम रखने के लिए सीतापुर में रोके जाने पर पुलिस को कहती है कि मोलिस्टेशन का आरोप लगाकर नौकरी ले लूंगी! इन जोकरों का इलाज जनता को करना होगा?
commentcomment
33
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (१११) बीजेपी के अतिरिक्त सभी पार्टियों में एक बात कामन है! सभी में होड़ मची है कि कौन घोर हिंदू् विरोधी विचारधारा का असली वारिस है? कांग्रेस हो, सपा हो, बसपा हो या ओवैसी छाप पार्टी हो; सभी ढूंढ़ ढ़ूंढ़ कर हिंदुओं के खून के प्यासों को टिकट दे रहे हैं! अब भी कोई हिंदू इनके समर्थन में खड़ा होता है तो उसपर यह कहाबत सटीक बैठती है! आंख का अंधा नाम नैनसुख!!
commentcomment
42
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (११०) हरक सिंह जी आपने अपनी मान्यताएं, धर्म के प्रति अपनी सोच, एक दिन में ही बदल दीं क्या? आप नहीं जानते कि कांग्रेेस एन्टी हिंदू पार्टी है? भाजपा में रहना न रहना अलग बात है, हिंदुत्व को धारण करना और त्याग देना दूसरी बात है! आजकल आप बाबा केदार से डायरेक्ट कनेक्ट हो गये हो, उन्हीं से पूंछना कि आप पाप कर रहे हो या पुण्य?
commentcomment
44
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#महाभारत (११०) अखिलेश आप कहते हो बीजेपी नफरत की राजनीति करती है! आप प्यार की राजनीति करते हो तभी तो कैराना से प्यार के प्रतिरूप नाहिद को टिकट दिया है! यह वही शख्श है जिसने २०१७ से पहले सपा सरकार की सरपरस्ती में हिंदुओं को इतना सताया कि वह कैराना छोड़कर भागने पर मजबूर हो गये थे! यही प्यार को वितरित करने बाली राजनीति है, आपकी? अखिलेश जी इतना जिंदा झूठ भी न बोलिए कि झूठ भी शर्मा जाए! ं
commentcomment
54
img
@r_p_gangwar

Retired officer

#आध्यात्म (१०९) यदि स्वार्थी ही बनना है तो बड़े स्वार्थी बनिए! अपने से अधिक अपने परिवार कै लिए, परिवार से अधिक अपने गांव,फिर अपने शहर और उससे भी अधिक अपने राष्ट्र के लिए स्वार्थी बनिये! अपने धर्म के लिए स्वार्थी बनिए! किसी धर्म से द्वेष नहीं, पर जो हमारे घर्म की जड़ो को हिलाए उससे धर्म और राष्ट्र की रक्षा करना परम स्वार्थ है! परम स्वार्थ यानि परमार्थ! जय श्रीकृष्णा !
commentcomment
55
create koo