koo-logo
backKoo
बिल्कुल सही कहा आपने ....
comment

More Koos from this user

dropdown-menu
जब सब सो रहे थे हम जाग रहे थे किसी की याद में नहीं जिम्मेदारियों में जाग रहे थे इतना छोटा नहीं था मुकाम हमारा कि कुछ रात जागने से काम चल जाता, अगर आंख लग भी गई तो हमारे हौसले भाग रहे थे!!!
comment
dropdown-menu
राइट
comment
dropdown-menu
बेटी को चाँद जैसा मत बनाओ कि हर कोई घूर कर देखे ,,, बेटी को सूरज जैसा बनाओ ताकि घूरने से पहले नजरे झुक जाए !!!
comment
dropdown-menu
हर लड़की नहीं चाहती कि १८ वर्ष की उम्र के बाद उसकी सादी हो ,,,. कोई अपने देश के लिए भी कुछ करना चाहती हैं !!!
comment
dropdown-menu
पैरा ऐस . अफ. बैजेस
comment
dropdown-menu
प्रिंस वर्मा
comment
dropdown-menu
किसी भी पेड़ के कटने का किस्सा न होता .. अगर कुल्हाड़ी के पीछे लकड़ी का हिस्सा न होता .............!!!!🙏
comment