koo-logo
BackbackKoo - Mukesh bhandari hindu( indian uttrakhandi)Go to Feed
विपक्ष को समझना होगा की देश की जनता आज के दिन इतनी बड़ी सँख्या में वैक्सीन लगवाने घरो से बाहर निकली करीब करीब २. ५ करोड़ सिर्फ इसलिए निकली क्युकि वो सब मोदी जी को जनम दिन का गिफ्ट देना चाहते थे .अब विपक्ष को समझना होगा क भारत की जनता अब भी मोदी जी के साथ है ,चाहे विपक्ष कोई भी प्रोपगंडा कर ले उनके हाथ २०२२, २०२४ म भी खाली होंगे.
commentcomment

More Koos from Mukesh bhandari hindu( indian uttrakhandi)

@mukesh_chandra4DVJC

Business Owner

सपा ,बसपा ,कांग्रेस ,आप सब मिल कर मन्थम कर रहे हैं की बजेपी को २०२२ और २०२४ के चुनावो में कैसे रोखे .
play
commentcomment
1
@mukesh_chandra4DVJC

Business Owner

जब से अगाड़ी सरकार महाराष्ट्र में बानी कभी अच्छे कामो को लेकर चर्चा में नहीं रही ,कभी कोरोना मिस्मानागमेंट ,सुशांत केस में हाथ, जिसमें अनिल देशमुख ,परमवीर की छुट्टी और अब आर्यन केस जिसमे नवाब मालिक की भी छुट्टी होना तय हैं .
commentcomment
@mukesh_chandra4DVJC

Business Owner

नवाब मालिक गवर अनपढ़ को सरकारी कागज़ का जरा भी ज्ञान नहीं हैं कसी को बदनाम करना लगता हैं इसका शोक हैं नेता हैं फालतू के बैठे रहते हैं तो खली दिमाग शैतान ka घर .लगता हैं इसका दामाद ही ड्रग रैकेट को चलता होगा. जाँच उसतक ना पहुंचे जाये .
commentcomment
1
@mukesh_chandra4DVJC

Business Owner

नवाब मालिक और समीर वानखेड़े की ये लड़ाई अब नेता और वर्दी ke बीच की होगयी हैं और जनता हमेसा वर्दी का साथ देगी ,नेता तो हरामी होते हैं देश को ही लूट कर खा जातें हैं और वर्दी वाला देश पर अपना सब कुछ लुटा देता हैं . मैं समिर वानखेड़े के साथ . नवाब मालिक पर जाँच को रोकने का मुकदमा चले.
commentcomment
1
@mukesh_chandra4DVJC

Business Owner

जब किसी इंसान को इंसाफ नहीं मिलता जैसे सुशांत को तो आम इंसान की हिम्मत टूट जाते है,की देश में राजनेता,सेलिब्रिटी कानून को अपने हिसाब से मोड़ सकते है और आराम से छूट जाते है बिलकुल निर्दोष निकल जाते हैं .कानून को आज के हिसाब से बदलना चाहिए .
commentcomment
@mukesh_chandra4DVJC

Business Owner

महाराष्ट्र मे माफियाओ का मनोबल कितना बड़ा हुआ हैं कि ड्रग केस कि जाँच को प्रभावित करने ke लिए सारे राज्य ki सरकार लग गयी क्यों, इसका तो ek ही मतलब हैं ki जाँच सही दिशा में जा रही है और कई राजनेता भी इसकी लपटों में आएंगे इसलिए जॉंच नहीं होने देना चाहते. खासकर नवाब मालिक एनसीपी का भ्र्स्ट नेता इसका पूरा ख़ानदान ही चोर हैं .सबसे पहले इसकी जाँच होनी चाहिए साथ में उद्दव और पवार की भी .
commentcomment
3
create koo