koo-logo
koo-logo
backKoo - राजेश मिश्राGo to Feed
घाटी में25बेगुनाह नागरिक इस साल मारे गए है।नपुंसक मानवाधिकारवादियों , व सेक्युलर राजनैतिक जमातियो में इतना पौरुष नहीं है कि इस्लामिक आतंकियों के विरूद्ध चू तक कर सके।मरने वाले सभी या हिंदू थे या राष्ट्रवाद के पक्षधर।यही उनका गुनाह था।सबसे शर्मनाक कश्मीर के साथ देश के सामान्य मुस्लिम आवाम का इस तरह की घटनाओं पर चुप रह जाना है।केंद्र राज्य सरकार ऐसे दुस्साहस को सामान्य अपराध के चस्मे से ना देखे।
commentcomment

More Koos by this user

img
@mishrarajesh

HomoeoCare

यद्यपि लोकतंत्र में वंश वाद कत्तई स्वीकार नहीं ।अपने देश में इस बीमारी का बीज बपन मोती लाल नेहरू द्वारा अपने पुत्र जवाहरलाल नेहरू को बड़ी चतुराई से कांग्रेस अध्यक्ष बनवा लेने से ही होगया था।परिवारवादी राजनीति का मूल स्रोत कांग्रेस ही रही है।गैर परिवारवाद का नारा बुलंद करने वाले समाजवादियों व क्षेत्रीय दलों का लोकतंत्र तो एक खोल व ढोंग मात्र ही है।इनका लोकतंत्र परिवार से परिवार तक ही सीमित है।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

किसी का अड़ियल रवैया आपका स्तब्ध हो जाना, बेबस हो सब सहते जाना सार्वजनिक जीवन में अब सामान्य सी बात हो गई है ।तथाकथित किसान आंदोलन हो या शाहीन बाग में हुए अराजक तांडव वैचारिक, संस्कारिक असहमति तो हो ही नहीं सकते।बहरहाल इसका खामियाजा देश का मध्यवर्ग ही उठाता है।यथास्थितिवादी मुट्ठी भर स्वार्थी तत्व क्रांतिकारी सुधारो से परेशान जरूर होते हैं।लेकिन उनसे प्रभावित हो जाने से अनिश्चितता का भाव बढ़ेगा।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

ओमिक्रॉन्न मरीजों का मिलना एकबरगी सचेत हो जाने की कॉल है।अभी तक जो जानकारी सामने आई है उसके अनुसार यह बहुत तेजी से संक्रमित करता है और इससे युवा ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं।हालांकि इससे प्रभावित मरीजों में कोई बहुत गंभीर लक्षण प्रकट नहीं हुए हैं।आवश्यकता है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन एवम देश का स्वास्थ्य स्वास्थ्य लोगो को प्रमाणिक सूचनाएं जल्द से जल्द उपलब्ध कराएं।टिके की दूसरी खुराक तुरंत लें।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

समान नागरिक संहिता संविधान की आत्मा है और देश संविधान से चलता है। ऐसा विधान जो सब पर समान रूप से लागू हो।किसी भी सेक्युलर देश में धार्मिक आधार पर अलग अलग कानून देश के एकता के समक्ष गंभीर संकट के कारण भी हो जाते हैं।इसका स्थाई समाधान समान नागरिक संहिता लागू करने में ही निहित है।इससे रूढ़िवाद,कट्टरवाद ,जातिवाद, क्षेत्रवाद,संप्रदायवाद भाषावाद, स्वा र्थ वाद समाप्त होंगे व वैज्ञानिक सोच विकसित होगी।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

आज देश में कृषि कानून की वापसी पर जिन जिन नपुंसकों को गुदगुदी हो रही है उन्हें बहुत अच्छी तरह इस तथ्य को समझना होगा कि देश की ८८प्रतिशत आबादी इस कानून के पक्ष में थी, है और रहेगी।कानून की वापसी भारतभूमि और पंजाब पर आसन्न खालिस्तानी आतंकवाद के नए व गंभीर षड्यंत्रों के खतरों से सुरक्षित करने के लिए उठाया गया विशिष्ट कूटनीतिक कदम है।अच्छा होगा हम उन१२प्रतिशत में छुपे सनकी जीवो का पर्दाफाश करे।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

मणिपुर में कर्नल विप्लव की हत्या राज्य व केंद्र सरकार से गंभीर प्रश्न करता है ।अल्प क्षेत्रफल मणिपुर में भी यदि यह सतर्कता की चूक है तो क्यों न यह माना जाय कि पब्लिक सेक्टर की एजेंसिया स्वभाव से कई बार लापरवाह हो जाती है । मणिपुर का क्षेत्रफल इतना सीमित है कि हर पत्ते कि पहचान कि जा सकती है। हर गुट वर्ग या समर्थन के संदिग्धों को ठोका जा सकता है केंद्र सरकार समन्वय ,संसाधन का प्रहार करे।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

युवाओं में फ्रीडम के फर्जी आदर्श ने व संयुक्त परिवार के टूटते , सीमित होते दुराग्रह ने ड्रग्स के बढ़ते चलन को और गति दे दिया है।हमारी आर्थिक ,सामाजिक व सांस्कृतिक संरचना को देखते हुए यह गंभीर चुनौती और खतरा भी है।इस दोष के लिए हम गैर जिम्मेवार अभिभावक भी उतने ही जिम्मे वार है जितना देश को कमजोर करने के मिशन में लगे अपराधी।कई बार बहुतेरे अभिभावक एक आदर्श अभिभावक के गुणधर्म से विमुख दिखते है।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

कई बार कानून की सुप्रीम समझ बहुसंख्य देश वासियों को बहुत पीड़ा देती है।सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को यह आदेश तो दे दिया कि सड़कों से बेरीकेट्स हटाया जाय, लेकिन पुलिस को जिन नकली उत पाती अराजक लोगो के कारण बेरीकेट्स लगाने पड़े उन दिशाहीन व अपरिपक्व किसान संगठनों को कोई स्पष्ट निर्देश देने से कोर्ट भी कन्नी काटते ही दिखा ।कई बार तो यह भ्रम होता है कि क्या कोर्ट भी दुश्वारियों को इंजॉय करता है।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

सनकी सेना की अपराधिक गठजोड़ वाली राजनीति फिर सामने है।शायद स्वतंत्र भारत में ऐसी दोगली सरकार देश में नहीं बनी हा एक अच्छी बात यहां सामने आ गई की इस बार दोगले बाजी की पूरी कमान स्वयं नवाब मलिक ने सम्हाल ली है ।देश को जानना चाहिए कि यह वही नवाब है जिसके दामाद को कभी समीर ने ड्रग तस्करी में गिरफ्तार किया था ।फर्जी नवाब किआंखो में तो समीर तब से ही खटकते रहे हैं।समीर जी आगे बढ़े95फीसद देश आपके साथ है ।
commentcomment
img
@mishrarajesh

HomoeoCare

प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया है यदि कांग्रेस की सरकार बनी तो इंटर पास लड़कियों को स्मार्ट फोन स्नातक पास लड़कियों को स्कूटी देंगी। मुझे बड़ी उत्सुकता है क्या स्मार्ट फोन व स्कूटी के पैसे कांग्रेस अपनी पार्टी फंड से देंगी या प्रियांकाअपनी प्राइवेट प्रॉपर्टी से। या फिर हमारे ही टैक्स के पैसे से जिसमें भरपूर कमिशन खाने का जुगाडआसान हो जाएगा।क्योंकि हम कांग्रेसी परंपराओं को भूल नहीं पाते है।
commentcomment
create koo