koo-logo
koo-logo
img
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#birjumaharaj #kookiyakya #कला कोई भी हो वो#बारीकी माँगती है। जिसमें सर्वश्रेष्ठता को पाने में सम्पूर्ण जीवन लग जाता है। #सूर_ताल का मधुर#ताना_बाना मनमोहित कर देता है नृत्य#मन_मस्तिष्क को रोमांच से भर देता है। हमारे भारतीय नृत्य के तो कहने ही क्या ?व्यक्ति का रोम-रोम#पुलकित कर देता है। शरीर को नई#स्फूर्ति प्रदान करने वाली बेहतरीन#नृत्य_शैली के उस्ताद#ब्रजमोहन_मिश्रा जी को श्रृद्धांजलि🙏💐 अनुपमा ✍
commentcomment
43

Comment

@Logically_spiritual

Spiritual Soul

शत शत नमन एवं भावपूर्ण श्रद्धांजलि 🙏🌸
commentcomment
0
@Singh_12

Social Worker, Writer,

कोटि कोटि नमन 🙏
commentcomment
0
18 Jan
@ramu8O81P

Carpenter

शुभ दिवस जी मित्रा 🙏🙏🌸✨💐🌺
commentcomment
0
18 Jan
@ramu8O81P

Carpenter

मालिक इनको आत्मिक गति शांति दे 🙏🙏🕉️
commentcomment
0
@sharma.g

Activist

भावभीनी श्रद्धांजलि 🙏
commentcomment
0
@Kisankamat2021

राष्ट्रहित सर्वोपरि।।‌ सत्यमेव जयते ।। जय हिन्द वन्देमातरम �

सुप्रभात 🌄💐🙏 ॐ शांति 🙏💐
commentcomment
0
कोटी कोटी नमन।🙏
commentcomment
0
@Logically_spiritual

Spiritual Soul

शत शत नमन एवं भावपूर्ण श्रद्धांजलि 🙏🌸
commentcomment
0
विनम्र श्रद्धांजलि।
commentcomment
0
@गंगा.रंजन.RSS

राष्ट्रीयवादी कटृर हिंदु 🚩 🇮🇳

ॐ शांति शांति 🙏
commentcomment
0

More Koos by this user

@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala जो वक़्त के साथ फ़ीका होता गया, क्या वो प्रेम था ?? अनुपमा ✍
commentcomment
27
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala ऐसे रिश्ते का भरम रखना बहुत मुश्किल है,, तेरा होना भी नहीं और तेरा कहलाना भी ।।
commentcomment
26
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala दिल के जख्म ही, इन्सान को सच्चा शायर बनाते हैं ! अब तक सिर्फ सुना था,आज महसूस भी कर लिया।। अनुपमा 💔✍
commentcomment
15
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala सीने में खँजर घोंपकर, वो कहते हैं मुस्कूराओ !! हाथ थामा है गैर का, मुझे कहते हैं रिश्ता निभाओ ।। अनुपमा ✍
commentcomment
32
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala इस तरह भी होता है प्रेम, ज़रा आजमाकर तो देख!! बिना मिले उम्रभर निभता है प्रेम, निभाकर तो देख!! अनुपमा ✍
commentcomment
37
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala थाम कर मेरी हथेली वो कुछ ढूँढते रहे,,,,,, फ़िर बोले, तुम्हारी लकीरों से मैं कहाँ चला गया ? अनुपमा ✍
commentcomment
46
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala आप कहते हो, मैं दिल में जज़्बातों को छुपा लेती हूँ!! अरे हुजूर अपनी आँखों से, पूरा मैखाना पिला देती हूँ।। अनुपमा ✍
commentcomment
42
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala धड़कनें-धड़कनों में खो जाएँ, तुझको इतना "नज़दीक" लाना है । अनुपमा ✍
commentcomment
35
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala तेरी रूह का दीदार करना है मुझे ।। जिस्म का क्या है ? तेरा भी मिट्टी , मेरा भी मिट्टी ।। अनुपमा ✍
commentcomment
52
@anupama_patwari1

कवयित्री,लेखिका,शायरा

#kavishala रात को वो ख्वाब में आये थे, दोनों मिलकर रोये थे !! लम्बि घुटन बाद,खुद को हल्का महसूस कर रही हूँ ।। अनुपमा ✍
commentcomment
31
create koo