koo-logo
koo-logo
इमारत चाहे कितनी भी बड़ी क्यों न हो, उसकी शुरुआत हमेशा छोटी सी ईंट से ही होती हैं।
commentcomment
0

More Koos by this user

@Gulshansrma

Accountant

कलयुगी दुनिया हैं साहब उसकी क़दर नहीं होती,जो सच में रिश्ते की कद्र करता हैं, कद्र उसकी होती हैं जो सबसे ज़्यादा दिखावा करता हैं..! #chardhamyatra2022
commentcomment
0
@Gulshansrma

Accountant

जिन्हें ज्ञान है , उन्हें घमंड कैसा ... जिन्हें घमंड है , उन्हें ज्ञान कैसा...... #gyanvapifiles
commentcomment
0
@Gulshansrma

Accountant

हैसियत का कभी अभिमान मत करना, उड़ान जमीन से शुरू होकर जमीन पर ही समाप्त होती है...
commentcomment
0
@Gulshansrma

Accountant

मनुष्य की सुंदरता की पहचान उनके रूप,चलन व बात करने के तरीके से नहीं बल्कि उनके स्नेह, परवाह और योगदान से होती है।
commentcomment
0
@Gulshansrma

Accountant

लोग हमारे बारे मे अच्छा सुनने पर शक करते हैं लेकिन बुरा सुनने पर तुरंत यकीन कर लेते हैं.
commentcomment
0
@Gulshansrma

Accountant

कुछ दर्द ऐसे होते हैं, जिनका दायरा सिर्फ खुद तक सीमित होता है.. वो किसी और के साथ बांटे नहीं जा सकते....
commentcomment
0
@Gulshansrma

Accountant

समय और भाग्य दोनो ही परिवर्तनशील है इस पर किसी को अहंकार नहीं करना चाहिए....
commentcomment
0
create koo