koo-logo
koo-logo
सर आप ये सोचे के हमारी पास लोकल के पास से भी कुछ नही खरीद रहे।पता है आपकी बजह से।पता है कैसे हमारी पास जो पैसे है वो पेट्रोल डीजल गेश ऐसीही चीज में खर्च हो रहे है
commentcomment
0
create koo