koo-logo
koo-logo
backKoo - विनोद पंडितGo to Feed
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

जय जय श्रीराम
commentcomment

More Koos by this user

img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#rajendraprasad डा० राजेन्द्र प्रसाद सच्चे देशभक्त और देश के प्रथम राष्ट्रपति थे, तत्कालीन कांग्रेस के सर्वस्वीकार्य नेता थे ,नेहरु ने ईन्हे राष्ट्रपति बनाकर किनारे लगाया ।नेहरु से ईनका मतभेद था ।नेहरु के तमाम विरोधो के बावजुद डा० राजेन्द्र प्रसाद सोमनाथ मंदिर के उद्घाटन किए।नेहरु ने ईसके बदले मे डा० राजेन्द्र प्रसाद से बुरा व्यवहार किया पदमुक्त होने के बाद व ईलाज के अभाव मे काल कवलित हुए
commentcomment
1
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#कृष्णजन्मभूमि_मुक्तिअभियान योगीजी ने मथुरा की सुरक्षा कङी कर दी है,उनकी ओर से ना है अभी।लेकिन हम तो कर्फ्यु देखने जाएंगे । बाबाजी की पुलिस से पंगा लेना ठीक नही । योगीजी को डिस्टर्व न करना ही लाभकारी होगा फिर भी हम तो जाएंगे ही ।अभी नही तो कभी नही।तारीख बताए बिना ही जाना ठीक होता।फिर भी हम तो जाएंगे ही, हम तो जाएंगे ही। जय जय श्री कृष्ण
commentcomment
2
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

Hey! Check out my Koo - अ https://www.kooapp.com/koo/bhumika_agarwal/9f28f701-9e43-4eaf-a78e-e54bbb752d7f मुसलमानो के पाखंड को तगङा जवाब, उनके विक्टिम कार्ड की ऐसी की तैसी कर दी ईस युवा कवि ने
commentcomment
5
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#कृष्णजन्मभूमि_मुक्तिअभियान पक्षपाती न्यायपालिका पर दबाव बनाना होगा अन्यथा मियालारड मामले मे तारीख पर तारीख और जांच पर जांच वाला घृणित खेल खेलते रहेंगे।पचासो साल बिता देंगे फिर भी निर्णय नही देंगे।शीशे की तरह साफ है श्रीकृष्ण जन्मभूमि का मामला, कांग्रेस के स्थानीय नेताओं ने जन्मभूमि के जमीन की बिक्री क्यों की ?ये कांग्रेस की संपत्ति कैसे हो गयी?
commentcomment
5
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#mumbaiterrorattack २६/११के मुंबई हमले मे देश के गद्दार पाकिस्तान से मिले हुए थे जांच के नाम पर मामले को दबा दिया गया।पाकिस्तान को भी बयान से मारा गया ।बचाव का रास्ता दिया । सत्य तो बाहर आता ही है कांग्रेस की माईनो सरकार ने देश की प्रतिष्ठा को फिर एक बार बेचा।एक देशभक्त सिपाही ने कसाब को पकङा अन्यथा हिन्दुओं को आतंकवादी साबित करने की तैयारी थी।ईस हमले के बलिदानी सुरक्षाकर्मियों को शत् शत् नमन
commentcomment
6
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#संविधान_दिवस हमारा संविधान नेहरु गांधी की कांग्रेस, मुस्लिम लीग, वामपंथियों, जिहादियों, देशद्रोहियों, दलालों की ईच्छानुसार बना हुआ है क्योंकि संविधान सभा मे ईन्ही का बहुमत था जो थोङे बहुत राष्ट्रवादी थे उनकी सुनने वाला कोई नही था नेहरु का पुरा नियंत्रण था संविधान सभा पर जो धाराएं ईस संविधान को महान बनाती है उसे लागु नही किया गया या फिर संशोधन करके उसका प्रभाव समाप्त कर दिया गया।समीक्षा होनी चाहिए
commentcomment
2
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#india एक सङे कांग्रेसी चाटुकार अय्यर का कहना है कि२०१४ के बाद बाद देश भारत अमरीका का गुलाम हो गया ,शांति के प्रयास नही हो रहे।कांग्रेसियों को भीख मे मिली चीज ही पसन्द है ईसीलिए ईन हरामखोरों ने हर तरह से देश को भिखारी बना रखा था।भीख मे मिली आजादी, भीख की शांति आत्मघाती होती है ।आज आत्मनिर्भरता के बिना ,शक्ति के बिना शांति असम्भव है। कांग्रेस काल मे रशिया ने भी भारत का शोषण किया है।
commentcomment
3
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#gurutegbahadur अपने मुल्यों, आदर्शों और धर्म समाज के लिए जो बलिदान गुरु तेगबहादुर ने दिया वह अद्वितीय है ,सिख गुरुओं का ईतिहास ऐसे ही बलिदानो से भरा पङा है ।गुरु तेगबहादुर जी को कोटिशः नमन। औरंगजेब ने जो अत्याचार सिखों पर किया उसका उदाहरण नही मिलेगा। सतनाम श्रीवाहेगुरुजी श्रीवाहेगुरुजी 🙏🙏🙏
commentcomment
5
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

Hey! Check out my Koo - #आज का तस्वीर📷 https://www.kooapp.com/koo/रमाशंकर_प्रसाद_ठाकुर/63b19321-6995-44fc-b66b-47acb21614a9 एक महामानव अपनी वयोवृद्ध मां के साथ ।मोदीजी ने देश विदेश के वृद्धजनो के प्रति हमारी जिम्मेवारी को बार बार बताया है।मोदीजी को धन्यवाद
commentcomment
5
img
@कोबरा

रिसर्चर ऑन नेशनल एन्थम,यानि दासता गान पर गुहगींजक।

#pmmodi कृषि कानुनो को वापस लेने की घोषणा मात्र से मोदीजी की आलोचना चहुंओर हो रही है, विपक्षी ईसे राजनीतिक निर्णय बता रहे है, टिकैत नयी मांग ले आया मतलब हाईवे का धरना चलता ही रहेगा ।सुप्रीम कोर्ट भी मोदीजी पर क्रोधित है।क्या राजनीति करने का अधिकार सिर्फ विपक्ष को ही है? ईस कदम से बेशक अधिकतर किसानो का नुकसान है परन्तु मोदीजी ने किस विशेष कारण वश ही ऐसा निर्णय लिया होगा जो हम सबको मालुम नही
commentcomment
3
create koo