koo-logo
backKoo
क्या बंगलादेश को पाक से अलग करने से अच्छा भारत में मिला लेना चाहिये था?
voters

443 votes

time-left

finished

comment
7

Comments

show hidden comments
dropdown-menu
img
@समरेन्द्र

गोसाइगिरि

अव तक बहुत ही देर हो चुका हैं भारत के साथ सामिल में,क्युँ कि ब़ंलादेश भयानक जनविस्फोट के कारन बन गयै हैं और बंलादेशीओ की आसान घुँचपेठो की तरिका हैं इण्डो-बंला सीमाओ की संदिग्ध और खुली विस्तिर्ण पाहारी और नदीतटीय इलाकाओ में विपदसंकुल स्थिति का फायदा लेते हुँवे गौ-तस्करो, नशाओ की तस्करी, और जिहादीओ की अवाध विचरण स्थल बन गयै हैं।💀☠️☠️☠️☠️
comment
dropdown-menu
img
@PushpendraK कुछ ऐसे राज है, जो राज ही रहते है | मगर हम आपसे एक राज की बा कहते है || जरा सोचो मोदी जी ने दाड़ी क्यों बड़ाई है | मुझे पता चल चूका😯 मुझे पता चल चूका, पी. ओ. के लेने की कसम खाई है || जब तक पी.ओ. के को भारत में नहीं मिलायेंगे| हमारे मोदी जी दादी नहीं कटवायेंगे ||#nationalflag“ #anpdhkidiary #narendaemodi #mangatramaggarwal
comment
1
dropdown-menu
img
नहीं मिलाना चाहिए कारण स्पष्ट है बांग्लादेश की अधिसंख्यक जनता कभी भी हिंदुस्तान को अपना देश नहीं मानती ...
comment
dropdown-menu
img
26 Jul
मुझे लगता हे पाक और बांग्लादेश इनको पैदा ही नहीं होने देना था भारत से ,ये हमारी गलती हुयी तब भी मुसलिम थे अब भी हे परन्तु शिक्षा के मामलेमे हमारे इंडियन पाक से आगे हे ,और अज्ञाता की वजहसे पाक और कुछ हद तक बांग्लादेश कट्टरवादी बन गए 😆😆😆
comment
dropdown-menu
img
हआ इ वि किया मिया बाई ो का हम दर्द ...से
comment
dropdown-menu
img
मिला .लेना .चाहिए
comment

More Koos from this user

dropdown-menu
प्रभु हंगी घड़ी सबको दे, पर मुश्किल घड़ी किसी को भी ना दे..।।
comment
dropdown-menu
माफ करना मेरे दोस्तों, आजकल मैं समय नही दे पा रहा हु, मेरा समय आप सभी के लिये जहर मुक्त थाली की व्यवस्था में बीत रहा है जिससे आप सभी का आने वाल समय, निरोगी हो, और बढ़े भी। 💐जय जैविक💐
comment
dropdown-menu
आजकल ऑर्गेनिक फर्टिलाइजर की फैक्ट्री की स्थापना के लिये, कानपुर लखनऊ में संघर्ष कर रहा हु। 🙏 जैविक भारत अभियान🙏 जहर मुक्त थाली सबका अधिकार
comment
dropdown-menu
“अगर आपको किसी एक से शिकायत है तो उससे बात कीजिए, यदि आपको अधिकतर लोगों से शिकायत है तो खुद से बात कीजिए” जय श्री राम🙏
comment
dropdown-menu
कीमत दोनों की चुकानी पड़तीं है, बोलने की भी और, चुप रहने की भी.।।
comment
4
dropdown-menu
धोखे ऐसे ही नहीं मिलते, लोगों का भला करना पड़ता है जनाब.।।
comment
dropdown-menu
पितृपक्ष के अवसर पर हमारे सभी पूर्वजों को सादर प्रणाम और शुभकामनाएं। जो डीएनए के रूप में हमारे शरीर में विराजमान है। *पितृपक्ष* की शुभकामनाएं।
comment
3
dropdown-menu
वो दुल्हन थी तो कोकरोच से भी डरती थी, अब वो मां है, सांप भी मार देती है..!!
comment
6
create koo