koo-logo
koo-logo
backKoo - जैविक भारत अभियान√Go to Feed
जो सीख हमें जिंदगी देती है वो हमें जिंदगी भर याद रहती है..।।
commentcomment
3

Comment

img
17 Oct
देश की इतनी बड़ी आबादी को भोजन जैविक खेती से उत्पादित अनाजों, फलों, सब्जियों एवम अन्य फसलों से कराना मुस्किल तो है लेकिन असंभव नहीं है।आज के युग में अधिक से अधिक पैदावार लेने किसान केमिकल खादों, इंसेक्टिसाइड्स, पेस्टीसाइड्स आदि का प्रयोग बिना रोक टोक के कर रहे हैं।जैविक खेती के लिए हम सबको पुरानी पद्धति का प्रयोग करना होगा ।
commentcomment
img
बिलकुल सत्य बात है जैविक खेती से अनाज मिलेगा वह गुणकारी स्वास्थवर्धक होगा।लोगबिमार भी काम होगे।
commentcomment
img
वही तो जिंदगी कमाल की टीचर हैं
commentcomment

More Koos by this user

img
“जीवन ऐसा जियो कि अगर कोई आपकी बुराई भी करे, तो कोई उस पर विश्वास ना करे !!
commentcomment
1
img
जो इंसान अपने स्वयं की निंदा सुन लेता है वह सारे विश्व पर विजय प्राप्त कर लेता है: महामना मदन मोहन मालवीय
commentcomment
1
img
#योद्धा देश की आजादी के लिए महज 19 साल की उम्र में हंसते हंसते फांसी पर चढ़ने वाले वीर योद्धा खुदीराम बोस का जन्म आज ही के दिन 3 दिसंबर 1889 को बंगाल के मिदनापुर में हुआ था। 1905 के बंगाल विभाजन से उन्हें बहुत गहरा दुख पहुंचा। 6 दिसंबर 1907 को खुदीराम बोस ने अंग्रेजों को डराने के लिए एक रेलवे स्टेशन पर बम फेंक दिया।
commentcomment
img
उठो तो ऐसे उठो कि .. फ़ख़्र हो बुलंदी को, झुको तो ऐसे झुको ..बंदगी भी नाज़ करे.. आये हो निभाने को जब, किरदार ज़मीं पर, कुछ ऐसा कर चलो कि ज़माना मिसाल दे..
commentcomment
img
टमाटर की देशी किस्म:-अत्याधिक लाभ कमाने के चक्कर में हाइब्रिड टमाटरों की किस्म अपनाकर हमने देशी टमाटरों के लगभग ४०० किस्मों को खो दिया है। जो अब शायद ही देखने के लिए मिलेगी..फिर भी हम खोज रहे है और संरक्षण भी कर रहे है।
commentcomment
img
इस तस्वीर को देखने और चिंतन करने के बाद आपको #गांधियों से नफरत हो जाएगी... और हां ये तस्वीर तब की है जब नेहरू का कपड़ा और जूता विशेष विमान से आता था... यह एक तस्वीर है 1948 के ओलंपिक की जो लंदन में हुआ था। हमारी फुटबॉल टीम ने फ्रांस के साथ मैच 1-1 से बराबर किया था। हमारे खिलाड़ी इसलिए जीत न सके क्योंकि उनके पास जूते ही नहीं थे । और वह नंगे पैर पूरा मैच खेले थे। जिसके कारण चोट भी लगी थी।
commentcomment
3
img
विवाह का समय चल रहा है, निमंत्रण में भोजन की निंदा ना करे, कोई वर्षो चटनी रोटी खाता है, आपको मटर पनीर खिलाने के लिए 🙏🙏
commentcomment
2
img
न किसी से ईर्ष्या न किसी से होड़ मेरी अपनी मंज़िलें..मेरी अपनी दौड़
commentcomment
img
“समय गूँगा नहीं बस मौन है, सही वक्त पर ही यह बताता है कि वो भी बोलना जानता है” जय श्री राम🙏
commentcomment
2
img
जिंदगी बहुत कीमती है, जितनी बचा लो उतनी बढ़िया
commentcomment
create koo