back
user
कोई कहता प्राण में बसता, कोई कहता जीवन तेरे नाम। पर वह कण-कण में बसता, जो जहां से बुलाता लेता सुन। वह सर्वज्ञ है, सर्वत्र बसता है, तू मन से लेता रह उसका नाम। 🌺 सुप्रभात🌺
user
Replying to @Shree_61R
0/400