back
user
भक्त शिरोमणि कर्मा बाई जाट के प्रेमजीद के आगे भगवान को स्वयं आना पड़ा तथा कर्माबाई का खीचड़ा खाना पड़ा :: भक्त वत्सल भगवान की जय हो !
play
0/400