back
img
अरुणेश मिश्र
@अरुणेश_मिश्र
जिसके पास मौन है उसी के पास वाणी है ; जो इसके अलावा है - वह शोर है जो प्रकृति को असंतुलित करता है । - अरुणेश मिश्र
user
@अरुणेश_मिश्र पर जवाब दे रहे है
user
type
audio
link
link
browse
0/400