back
user
क्या मन्दिर, क्या तीरथ और क्या गंगा की धार करे जब मन ही अंधा कर बैठे हैं तो, ईश्वर क्या उद्धार करें! 🙏जय श्री राम🙏
0/400