back
img
Mahi Gupta
@mahi_gupta
कही ज़िद पूरी … कही जरूरत भी अधूरी…..  कही सुगंध भी नहीं.. कहीं .. पूरा जीवन कस्तूरी.!  इसीका नाम तो है  ज़िंदगी…….
user
@mahi_gupta पर जवाब दे रहे है
user
type
audio
link
link
browse
0/350