back
user
भाई कोंग्रेश जाती है तो बीजेपी आती बीजेपी जायेगी तो कोंग्रेश आयेगी ईसी तरह से देश का सासन दोनों के अंदर ही रहा लेकिन भारत के मुल निवासी एसी एसटी ओबीसी की समस्या जो गुलाम भारत में नहीं था आज आजाद भारत में समस्या निर्माण होग्या है कियो की दोनों ही पार्टी बराहमनो के नियन्त्रण में और दोनों ही पार्टी भारत के मुल निवासी को विकास के जगह गुलाम केसे बनाया जाय ईसके लिए काम कर रही है
0/400