back
user
डी आर डी ओ जैसे सामरिक महत्व के संस्थान में आई एस आई की महिला एजेंट कि पैठ व गोपनीय सूचना का लीकेज यह प्रमाणित करता है कि कई बार हमारा गुप्तचर तंत्र लापरवाह हो जा रहा है।२०१५ में भी एक संविदा फोटो ग्राफर सूचनाएं लीक करते पकड़ा गया था। अ ब कुल छः कर्मचारी इसी अप राध में पकड़े गए है। लचीला दंड प्रावधान ही अपराधियों को ऐसे गंभीर विषय में भी निडर कर दे रहा है। कारावास नहीं मृत्युदंड की सजा हो।
user
Replying to @mishrarajesh
0/400