back
user
लालू जी को चारा मुबारक हो |खाते रहो और जुग जुग जियो |हालात देखकर दया आती है जैसे गुनाह की मार चेहरे पर जलक रही हो |
0/400