back
user
#AtmnirbharNaari #SpeakwithPM आत्मनिर्भर नारी की बात करें तो सबसे पहला नाम सुनीता कृष्णन का आता है, इनका जन्म 1972 में बेंगलुरु में हुआ था, इन्होने समाज सेवा और मानव तस्करी को रोकने के लिए अपना भरपूर योगदान दिया है, इनके NGO का नाम प्रज्वला है एवं इन्हे कई पुरूस्कार जैसे पद्मश्री एवं मदर टेरेसा से भी नवाज़ा गया है|
user
Replying to @gunjan
0/400