back
user
जम्मू कश्मीर में हिंदू मुस्लिम दंगों के दौरान महात्मा हंसराज अपने स्वयंसेवकों के साथ अविलंब वहां पहुंचे और उनके द्वारा संकटग्रस्त क्षेत्रों में जगह-जगह मुफ्त लंगर खोले गए
0/400