back
user
एलोपैथी और आयुर्वेदिक के बीच जो लड़ाई हैं,उसका कारण ये है,जब बाबा रामदेव बोलते थे,डेंगू बुखार में पपीते के पते का जूस पियो तो ये एलोपैथी डॉक्टर बोलते थे,नीम हकीम खतराय जान ,ये खुद पपीते के पते का 15 कैप्सूल 520 रुपये में बेच रहे हैं।
user
Replying to @Divyavani
0/400