back
user
#अब तो एयरपोर्ट पर नमाज़ के लिए अलग से स्थान आरक्षित किया गया है लेकिन अभी तक मंदिर नही बनाया गया क्यो हमे दोयम दर्जे में रखा गया है।
0/400