back
user
पहले ”किसान” धरने पर बैठे।फिर ”किसान” मीटिंग में गए।”किसान” माने नहीं। फिर ”किसानों” ने ट्रैक्टर रैली निकाली।रैली में भाजपा के गुंडे घुस आए।भाजपा के गुंडों ने पुलिस को ट्रैक्टर से दौड़ाया, तलवार भांजी और 300 पुलिस वालों को घायल कर दिया।भाजपा के गुंडों ने लाल किले पर दूसरा झंडा फहरा दिया।पुलिस ने भाजपा के गुंडों को हिरासत में ले लिया। अब ”किसान” कह रहे हैं कि हमारे लोगों को रिहा करो 😇😇
user
Replying to @amrmisra
0/400