back
user
मिटा तमस जोत जगाओ, तेजस्वी तेज विधाता जग जीवन जीवन्त करो, अनंत ऊर्जा के दाता तुम हो त्रिकाल रचयिता, तुम जग के आधार। महिमा तब अपरम्पार।। प्राणों का सिंचन करके भक्तों को अपने देते। बल, बुद्धि और ज्ञान।। ।।ॐ जय सूर्य भगवान।। सुप्रभात! 🙏🙏 ॐसूर्याय नम:
0/400